‘बाबा की मौज’ : पतंजलि के व्यापार से बैंक खुश, लोन देने की होड़

0
44

baba-ramdev-1

वर्तमान वित्त वर्ष में जनवरी 2016 तक पतंजलि आयुर्वेद सेल्स 3,267 करोड़ थी, जबकि साल भर पहले उसने 1,588 करोड़ रुपये की बिक्री की थी, सौ फीसद से ज्यादा की बढ़ोतरी

मुंबई। योग गुरु बाबा रामदेव आजकल भारत के उभरते ब्रांड बने हिए हैं। उनकी कंपनी का व्यावसाय दिन दोगुनी-रात चौगुनी तरक्की कर रहा है। पतंजलि आयुर्वेद ब्रांड लगातार कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ रहा है। पीएम के मेक इन इंडिया नारे को बढ़ावा दे रहे पतंजलि ब्रैंड ने बाजार में अपनी एक अलग जगह बनाई है। पतंजलि के साथ खाद्य पदार्थ बनाने वाली कई अच्‍छी कंपनियां काम करने की इच्‍छा व्‍यक्‍त कर चुकी हैं। यहां तक कि बैंक भी पतंजलि ब्रांड को सफल बनाने में मदद कर रहे हैं। आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक ने पतंजलि आयुर्वेद को कर्ज देने का प्रस्ताव रखा है।

पतंजलि आयुर्वेद का मिशन एक साल में एक हजार करोड़ रुपये जुटाना है। इस समय ज्‍यादातर बैंक किसी भी कंपनी को कर्ज देने से कतरा रहे हैं। लेकिन आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक ने योगगुरु रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद को लोन देने का ऑफर दिया है।

पतंजलि के मैनेजिंग डायरेक्टर आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि उनकी कंपनी समय पर लोन का रिपेमेंट कर देती है, इसीलिए बैंक उन्‍हें कर्ज देने से कतराते नहीं हैं। उन्‍होंने बताया कि पतंजलि आयुर्वेद का मुकाबला यूनिलीवर, नेस्ले और आईटीसी जैसी एफएमसीजी कंपनियों से है। पतंजलि 2016-17 तक डेली प्रॉडक्शन कैपेसिटी बढ़ाकर 2,000 टन करना चाहती है।

इस फाइनेंशियल ईयर में जनवरी 2016 तक पतंजलि आयुर्वेद सेल्स 3,267 करोड़ रुपए थी, जबकि साल भर पहले उसने 1,588 करोड़ रुपये की बिक्री की थी।

बालकृष्ण ने बताया, ‘जो भी बैंक हमें सस्ता लोन ऑफर करेगा, हम उसके साथ जुड़ना चाहेंगे। पतंजलि जल्द ही बेबी फूड भी लॉन्च करने की तैयारी कर रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here