लातूर : राहत को तरसती, अंबर को निहारती नजरें !

0
21

hydrabad-cludy-01हैदराबाद में शुक्रवार रात हुई बारिश से शनिवार को खुशगवार हुआ मौसम।

महाराष्ट्र के सूखाग्रस्त लातूर में बीती रात करीब आधे घंटे हुई बारिश, गर्म तवे पर बूंद के सामान

पड़ोसी राज्य कर्नाटक में हो रही बारिश से उम्मीदों के साये में जी रहे लातूरवासी, और दो-तीन बार हो बारिश तो किसानों के चेहरे पर भी झलके खुशी

नई दिल्ली/उद्गीर (लातूर)/रिपोर्ट4इंडिया। इस साल मानसून के तेज बरसने की सूचना से सबसे ज्यादा खुशी महाराष्ट्र के सूखाग्रस्त इलाका लातूर के लोग महसूस कर रहे हैं। उनकी आंखें बरबस आकाश में उमड़ते–घुमड़ते बादलों पर टिक जा रहीं हैं, जो फिलहाल पड़ोसी राज्य कर्नाटक में बरस रहे हैं। शुक्रवार रात करीब आधे घंटी की बारिश से लातूरवासियों के चेहरे जरूर खिले पर शनिवार को साफ आकाश और तेज धूप ने इंतजार को और लंबा कर दिया। फिलहाल लातूर के लोग पानी को लेकर उसी तरह की परेशानी झेल रहे हैं जैसे अप्रैल-मई में झेल रहे थे।

उद्गीर के अरविंद पातकी ने बताया कि रात में करीब आधे घंटे की बारिश हुई थी। हालांकि, इस बारिश से राहत की उम्मीद बेमानी है। अभी तत्काल करीब तीन-चार दिन बारिश हो तो, तब कुछ राहत पहुंचे। पड़ोसी राज्य कर्नाटक में खूब बारिश की सूचना है। यहां के शहरी लोग व किसान टकटकी लगाए हुए हैं कि बारिश हो, तो वर्तमान की सबसे बड़ी समस्या पानी की परेशानी दूर हो जाए। अभी यहां के निवासी बाहर से आ रहे पानी से ही थोड़ा-बहुत गुजारा कर रहे हैं। आंध्र प्रदेश के विभिन्न शहरों से सामाजिक लोगों द्वारा पेजयल अभी भी लातूर व उद्गीर को भेजा जा रहा है। यहां के लोगों का मानना है कि आंध्र प्रदेश व कुछ अन्य स्तानों से लोगों ने निजी प्रयासों से एक लाख लीटर से ज्यादा पीने का साफ पानी भेज लातूर के लोगों को जीवन की आशा दी है।

उधर, हैदराबाद में भी शुक्रवार रात करीब तीन घंटे बारिश हुई। बारिश से वहां के लोगों ने राहत महसूस किया। बारिश की वजह से शनिवार को मौसम खुशगवार बना हुआ है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here