आजतक ने बनाया तमाशा, असभ्य ‘अधेड़’ ने लाइव प्रोग्राम में लड़की के गाल खींचे

0
186
aajtak-sakshi-ajitesh
आजतक के लाइव प्रोग्राम में अपने पिता के साथ बैठे हुए अजितेश ने साक्षी के गाल को खींचा। ( आजतक के वीडियो का स्क्रीन शॉट)

विधायक राजेश मिश्रा की 22 साल की बेटी साक्षी को घर से भगाकर शादी करने का दावा करने वाला अधेड़ उम्र के अजितेश ने आजतक के लाइव कार्यक्रम में अपने पिता के सामने साक्षी के गाल खींचे। आजतक ने इसे बिना संपादित किए यू-ट्यूब पर डाल दिया।  पत्नी हो या अन्य कोई संबंधी पर भारतीय समाज में सार्वजनिक रूप से अपने पिता के सामने इस तरह का व्यवहार बताता है कि वह अनपढ़ व बेहद असभ्य किस्म का व्यक्ति है। टीवी मीडिया भी पत्रकारिता के नाम पर इस प्रकार से भारत के समाज व लड़की के परिजनों के सम्मान को तार-तार कर रहे हैं।

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। बरेली के विधायक राजेश मिश्रा की 22 वर्षीय बेटी साक्षी और करीब 43 साल के दलित युवक अजितेश के साथ घर से भागकर शादी किए जाने का दावा किया जा रहा है। अजितेश और साक्षी ने वीडियो बनाकर विधायक राजेश मिश्रा पर दबाव बनाने, पीछा करने और जान से मारने के प्रयास का आरोप लगाया। वीडियो के वायरल होने के बाद इस मामले में तरह-तरह की बातें सामने आ रही हैं। दूसरी तरफ मीडिया ने भी पत्रकारिता के नाम पर इस मामले को फैलाने में बड़ा रोल निभाया है। राजेश मिश्रा ने अपनी पहली प्रतिक्रिया में यह साफ किया कि उनकी बेटी बालिग है और वह जो करना चाहे करे, उन्हें उससे कोई मतलब नहीं है। घर से भागने के बाद भी उन्होंने न तो खोजने का प्रयास किया और न ही पुलिस में किसी प्रकार की शिकायत की है। इस मामले में मीडिया की दिलचस्पी और प्रसार पर नाराजगी जताते हुए कहा कि मीडिया उन्हें परिजनों समेत आत्महत्या पर मजबूर न करे। जाहिरतौर पर, उत्तर प्रदेश का समाज इस तरह की हरकतों को नैतिक व सूचितापूर्ण नहीं मानता।

भारतीय समाज अनेकता में एकता का रूप है। कानून में समानता का मसला अलग है पर व्यवहारिक तौर पर यहां जाति प्रथा कइ प्रकार के सामाजिक संस्कारों व व्यवहारों से जुड़ी हुई है। उत्तर प्रदेश, बिहार जैसे पूर्व के राज्यों में कहा जाता है कि यहां हर 10 कोस पर पानी और बोली-व्यवहार बदल जाता है।

यहां दो चीजें महत्वपूर्ण है। पहला 22 साल की लड़की ने अपने किसी सहपाठी के साथ नहीं बल्कि एक अधेड़ उम्र का व्यक्ति जो उसके घर में लंबे समय से आता-जाता था, जो उसके भाई का जानने वाला था, जो उस घऱ में खाना खाता था, उसने अपने से करीब आधी उम्र की लड़की को भगाकर ले गया और दोनों ने शादी करने के दावे के साथ पिता विधायक राजेश मिश्रा से जान का खतरा बताकर वीडियो जारी किया।

दूसरा इस अधेड़ उम्र के व्यक्ति का संस्कार देखिए कि आजतक के लाइव प्रोग्राम में हौंसला देने के नाम पर अपने पिता के सामने लड़की के गाल को काटता है। यह क्या है …यदि तमाशा नहीं है तो?

मीडिया इसे दलित-ब्राह्मण बनाकर भले पेश कर रहा हो परंतु, अजितेश के भोपाल में 2016 में सगाई की खबर सामने आने के बाद उसके पिता अब कहने लगे हैं कि दोनों को भागकर शादी करने का तरीका सही नहीं है। साथ ही, मीडिया का तरीका भी सही नहीं है। भारत कोई पश्चिमी सभ्यता वाला देश नहीं है। रिचर्ड गैरे का जबरन अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी का सार्वजनिक चुंबन लेने पर सवाल उठाया जा सकता है तो फिर आजतक के स्टूडियो में लाइव कार्यक्रम में लड़की का गाल खींचने का विरोध होना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here