भारी गुजरा दशहरा, ऐसा हादसा की रूह कांप जाए, 75 से ज्यादा की मौत (वीडियो)

0
22
train-accident-in-Punjab-amritsar

75 से ज्यादा की मौत, घायलों से पटीं अस्पतालें, बड़ी संख्या में बच्चों की मौत। अमृतसर और आसपास लोगों से अपील ब्लड डोनेशन करें। 

बड़ी संख्या में मृतकों की पहचान भी संभव नहीं हो पा रही। पंजाब सरकार ने राजकीय शोक का ऐलान किया

अमृतसर में रावण नहीं जैसे परमाणु बम जला हो। train-accident-in-Punjab-amritsar

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

अमृतसर/जालंधर। दशहरा के मौके पर रावण दहन देख रहे लोगों के ट्रेन से कटकर मौत की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। फिलहाल 75 से अधिक लोगों की दर्दनाक मौत हो गई जबकि सौ से अधिक घायल हैं। हालांकि, पंजाब पुलिस ने अबतक 60 लोगों की मौत की पुष्टि की है। यह ऐसी घटना हुई है जिसका वर्णन शब्दों में नहीं किया जा सकता। शुक्रवार को रात 7 बजकर 20 मिनट पर रेल पटरी से ट्रेन नहीं काल गुजरी और भीड़ को रौंदती चली गई। दो साल के बच्चों से लेकर 65 साल तक लोग इस हादसे के शिकार हुए हैं। अमृतसर के गुरुनानक और सिविल अस्पताल और अन्य निजी अस्पतालों में घायलों का इलाज चल रहा है। मोर्चरी में 40 से अधिक शव पहुंचाए गए हैं।

अस्पताल प्रशासन ने अमृतसर के लोगों से अपील की है कि वे ब्लड डोनेशन करें क्योंकि खून की बेहद जरूरत हैं। शहर में एंबुलेंस लगातार दौड़ रहीं हैं।

दरअसल, पंजाब के अमृतसर में शुक्रवार को चौड़ा बाजार धोबी घाट के पास रावण का पुतला जलाया जा रहा था। करीब 7 बजकर 20 मिनट पर यहां के स्थानीय विधायक नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर की मौजूदगी में पुतला दहन किया गया। इसी दौरान जालंधर से अमृतसर को जाने वाली डीएमयू ट्रेन सौ की स्पीड में गुजरी और बड़ी संख्या में ट्रेन की पटरी पर खड़े लोग मारे गए।

बताया जाता है कि जब रावण जल रहा था तो पटाखों की आवाज के चलते ट्रेन की आवाज सुनाई नहीं दी। लोग समारोह का वीडियो बना रहे थे और ट्रेन रौंदती हुई निकल गई। हादसा के बाद घटनास्थल पर हृदय विदारक दृश्य था। लोगों की अंग-प्रत्यंग कटे बिखरे पड़े थे, लोग दर्द से चित्कार रहे थे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here