चंद्रशेखर-प्रियंका मिलन मायावती को खल गई, अमेठी-रायबरेली भी बख्शने के मुड में नहीं! 

0
73
mayawati-priyanka

मायावती के खिलाफ दलित वोटों को साधने के लिए कांग्रेस की चाल पर बसपा नारा़ज। कांग्रेस की इस राजनीति पर राहुल-सोनिया को कोई मौका नहीं देने का फैसला संभव 

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव की दहलीज़ पर बसपा और सपा के बीच गठबंधन के बाद लावारिस हुई कांग्रेस उत्तर प्रदेश में समर्थक ढूंढ रही है। परंतु, उसकी यह कोशिश भी भारी पड़ती दिख रही है। बुधवार को कांग्रेस की महासचिव बनीं प्रियंका वाड्रा मेरठ पहुंच भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर से मिलीं। प्रियंका को लगता है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चंद्रशेखर के साथ से वह दलित वोटों में सेंध लगा सकतीं हैं। हालांकि, इस दौरान मीडिया से बातचीत में उन्होंने मिलने के मुख्य आशय को छुपा लिया और कहा कि वे नौजवान से मिलने पहुंची हैं।

कांग्रेस की इस पूरी रणनीति से बसपा प्रमुख मायावती नाराज़ हो गईं हैं। बसपा सूत्रों से जो जानकारी मिल रही है उसके मुताबिक नाराज मायावती ने कांग्रेस को धमकी दी है कि वह अमेठी में राहुल गांधी और रायबरेली में सोनिया गांधी के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतार सकतीं हैं।

मायावती ने सोमवार को घोषणी की थी कि वह कांग्रेस के साथ देश में कहीं भी गठबंधन नहीं करेगी। संभवत: कांग्रेस बसपा की इस घोषणा के बाद दलित वोटों में सेंधमारी के मकसद से अपनी चाल चली। इसका राजनीतिक प्रभाव निश्चित रूप से कुछ दिनों में देखने को मिले सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here