कांग्रेस के उदार इमरान मसूद भारत को सौंपगे?

0
66
sushma-swaraj

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज नेपाकिस्तान के प्रधानमंत्री के साथ ही कांग्रेस को बेनकाब किया। कहा, तथाकथित उदारता दिखाने और उनका सम्मान करने वाले समझ लें कि आतंकवाद और बातचीत दोनों एक साथ नहीं चल सकती।

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली।  विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पुलवामा के बाद जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर के अपनी सरकार के आक्रामक रूख को आगे बढ़ाते हुए कहा कि आतंकवाद पर उदारता दिखाने का प्रयास करने वाले बेनकाब हो गए हैं। उन्होंने इस मामले में कांग्रेस को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि जो लोग पाक पीएम इमरान खान की उदारता को लेकर घूम रहे हैं, वे और इमरान इतने अच्छे हैं तो आतंकी मसूद अजहर को भारत को सौंप दें। विदेश मंत्री बुधवार को ‘इंडियाज वर्ल्ड: मोदी गवर्नमेंट्स फॉरेन पॉलिसी’ पर नेहरू मेमोरियल संग्रहालय एवं पुस्तकालय में बोल रहीं थीं।

इस मौके पर सुषमा स्वराज ने कहा, पाकिस्तान जब तक अपनी जमीन से संचालित आतंकी अड्डों पर कार्रवाई नहीं करता, तब तक उससे कोई बातचीत नहीं हो सकती।  पाकिस्तान को आईएसआई और अपनी सेना पर नियंत्रण करने की जरूरत है, जो बार-बार द्विपक्षीय रिश्तों को बर्बाद करने पर तुले हैं।

विदेश मंत्री ने कहा, इस बार हम आतंकवाद पर बात नहीं बल्कि कार्रवाई चाहते हैं। उन्होंने पाकिस्तान पर पलटवार कर कहा, भारत ने बालाकोट में आतंकी ठिकानों पर कार्रवाई की थी, लेकिन पाकिस्तान आतंकी के पक्ष में आकर भारतीय सेना को निशाना बनाने की कोशिश की।

जैश की मदद पर स्वराज ने कहा कि “आप न सिर्फ जैश को अपनी जमीन पर पाल रहे हैं बल्कि उन्हें फंड भी दे रहे हैं और जब पीड़ित देश प्रतिरोध करता है तो आप आतंकी संगठन की तरफ से उस पर हमला करते हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here