दिल्ली में शराब घोटाले को लेकर बीजेपी का विरोध-प्रदर्शन

0
135
दिल्ली में केजरीवाल सरकार के शराब नीति घोटाले के विरोध में दिल्ली बीजेपी का प्रदर्शन।

दिल्ली केजरीवाल सरकार की नई शराब (आबकारी) नीति के तहत शराब माफिया के पक्ष में लाभ पहुंचाने के दिल्ली सचिव के लिखित आदेश को लेकर दिल्ली के उप-राज्यपाल द्वारा मामले की सीबीआी जांच कराने की सिफारिश के बाद बीजेपी का दिल्ली में प्रदर्शन 

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो/ नई दिल्ली।

दिल्ली में नई शराब नीति के तहत शराब के नये लाइसेंस के आवंटन में हुए घोटाले की रिपोर्ट के बाद दिल्ली की राजनीति में उबाल आ गया है। चुकि, दिल्ली सरकार में भ्रष्टाचार की यह खबर इतनी बड़ी इसलिए हो गई है कि स्वयं दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव ने शराब नीति में नियमों की अनदेखी कर शराब माफिया के पक्ष में नियम बनाने, गली-मोहल्लों में शराब के ठेके खुलवाने, ब्लैक लिस्टेड शराब कंपनियों को शराब के लाइसेंस देने, उनके पक्ष में 144 करोड़ रुपए छोड़ देने और इन सभी के पीछे शराब माफिया से टेबुल के नीचे से अरबों रुपये लेने आदि के आरोपों के खिलाफ शनिवार को दिल्ली बीजेपी ने केजरीवाल के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता मनीष सिसौदिया की बर्खास्तगी उनका प्रदर्शन जारी रहेगा।

बीजेपी ने शराब माफिया के पक्ष में नई आबकारी नीति बनाने और उन्हें अरबों रुपये का सीधा लाभ पहुंचाने के मामले में सीएम केजरीवाल के घर के बाहर प्रदर्शन करने के दौरान आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल और भ्रष्टाचार का सीधा संबंध है। केजरीवाल दिल्ली में भ्रष्टाचार कर शराब माफिया से अरबों की उगाही कर रहे हैं और इसी पैसे से अपनी राजनीति के विस्तार के काम लगे हैं। अपने को कट्टर ईमानदार बताने वाले केजरीवाल के मंत्री एक-एक कर घोटालों में फंसते जा रहे हैं और टीवी आकर वे केवल मुंह चला रहे हैं। खुद को खुद से ही निर्दोष बता रहे हैं और निर्लजता से कह रहे हैं कि हमें जेल जाने में डर नहीं लगता। उन्होंने कहा भला चोरों और घोटालेबाजों को जेल जाने से कहां डर लगता है? डर लगता तो वे चोरी-लूट, घोटालेबाजी नहीं करते।