‘बलिदान’ पर धोनी की बगावत, ICC भी अड़ा

0
51
ms-dhoni

धोनी की दस्ताने पर बलिदान बैज निशान के साथ विकेटकीपिंग करने को लेकर उठा विवाद। बीसीसीआई व खेल मंत्रालय भी धोनी के साथ

रिपोर्ट4इंडिया स्पोर्ट्स डेस्क।

नई दिल्ली। क्रिकेट वर्ल्ड कप प्रतियोगिता के दौरान टीम इंडिया के पूर्व कप्तान व वरिष्ठ खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी के विकेटकीपिंग ग्लव्स में ‘बलिदान बैज’ का निशान सुर्खियों में है। वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के आयोजक संस्था आईसीसी ने जहां दस्ताने से इस चिन्ह को हटाने को कहा है वहीं, महेंद्र सिंह धोनी ने साफ कर दिया है कि वह इसे नहीं हटाएंगे। इस मामले में खेल मंत्रालय ने भी हस्तक्षेफ किया है और बीसीसीआई को जरूरी कदम उठाने को कहा है। इस स्थिति में यह विवाद विश्व कप वर्ल्ड कप का फिलहाल सबसे बड़ा मुद्दा बन गया है।

बुधवार को साउथेम्प्टन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत के पहले मैच के दौरान धोनी बलिदान बैज के साथ विकेटकीपिंग कर रहे थे। इस पर पाकिस्तान के एक मंत्री ने इसपर टिप्पणी की। बाद ने आईसीसी ने धोनी को अपने दस्ताने से यह निशान हटाने को कहा। धोनी ने ग्लव्स से इस निशान को हटाने से मना कर दिया। बीसीसीआई भी धोनी के समर्थन में खड़ी हो गई है। बीसीसीआई के सीओए चीफ विनोद राय ने कहा, ‘हम आईसीसी को एमएस धोनी को उनके दस्ताने पर ‘बलिदान बैज’ पहनने के लिए अनुमति लेने के लिए पहले ही चिट्ठी लिख चुके हैं।’

बीसीसीआई के बाद खेल मंत्रालय ने भी धोनी का समर्थन किया। खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा, ‘खेल निकायों के मामलों में सरकार हस्तक्षेप नहीं करती है, वे स्वायत्त हैं। लेकिन जब मुद्दा देश की भावनाओं से जुड़ा होता है, तो राष्ट्र के हित को ध्यान में रखना होता है। मैं बीसीसीआई से आईसीसी में इस मामले को उठाने का अनुरोध करना चाहूंगा।’

उल्लेखनीय है कि भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को क्रिकेट में उनकी उपलब्धियों के कारण 2011 में प्रादेशिक सेना में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल की रैंक दी गई थी। धोनी यह सम्मान पाने वाले कपिल देव के बाद दूसरे भारतीय क्रिकेटर हैं। धोनी को मानद कमीशन दिया गया क्योंकि वह एक युवा आइकन हैं और वह युवाओं को सशस्त्र बलों में शामिल होने के लिए प्रेरित कर सकते हैं। धोनी एक प्रशिक्षित पैराट्रूपर हैं। उन्होंने पैरा बेसिक कोर्स किया है और पैराट्रूपर विंग्स पहनते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here