Amir Khan के ‘हिन्दू विरोधी सोच’ पर फिर बवाल, निशाने पर CEAT TYRE कपनी 

0
466

संदिग्ध हिन्दू मतविरोधी अपने कार्यक्रमों के लिए विवादित अभिनेता आमिर खान एक बार फिर लोगों के निशाने पर हैं।इस बार वे दीवाली को केंद्र में रखकर सीएट टायर के एक विज्ञापन में देखें गये हैं, जिसका विरोध हो रहा है। लोगों की अपील है कि हिन्दू लोग Ceat tyre खरीदना बंद कर दें, इनके होश ठिकाने लग जाएंगे।     

report4india/ New Delhi.

एक बार फिर अभिनेता आमिर खान निशाने पर हैं। आमिर अक्सर हिन्दू देवताओं, पर्व-त्यौहारों को लेकर अपने विज्ञापनों में कटाक्ष करते नज़र आते हैं। अपनी फिल्म पीके में वे जहां भगवान शिव का मज़ाक उड़ाते हैं, मंदिर में देवी-देवताओं का मज़ाक उड़ाते हैं वहीं, दूर से ही मस्जिद को देख भाग खड़े होते हैं। आमिर खान की इन हरकतों को अब हिन्दू समाज ने बर्दाश्त करना बंद कर दिया है। जिस देश में वे ‘डर का माहौल’ पैदा करते हैं उसी देश की सभ्यता-संस्कृति को निशाने पर रखते है। आमिर खान का नया विवाद सीएट टायर के लिए जारी किये गये विज्ञापन को लेकर है।

सीएट टायर के विज्ञापन में आमिर कहते हैं कि सड़क गाड़ी चलाने के लिए पटाखे छुड़ाने और बारात निकालने के लिए नहीं। पटाखे कॉलोनियों में छोड़े। इस विज्ञापन की प्रतिक्रिया सवरूप लोगों ने सवाल उठाये हैं कि क्या सड़क नामाज़ पढ़ने के लिए है? बारात निकालने व पटाखे फोड़ने से जाम लगता है तो फिर नमाज़ पढ़ने से भी जाम होती है और ट्रैफिक पूरी तरह से अवरूद्ध हो जाता है। आमिर खान का विज्ञापन ‘नमाज़ नहीं पढ़ने’ को लेकर क्यों नहीं बनाया गया? दीवाली के दौरान हिन्दू समाज में शादी का मुहुर्त भी शुरू हो जाता है। विज्ञापन में दिखाया गया है कि घोड़े पर एक बारात जा रही है। लोग पटाखे छुड़ा रहे हैं और डांस कर रहे हैं। लेकिन आमिर खान इसे बंद करने के लिए कहते हैं। वे कहते हैं- सड़क गाड़ी चलाने के लिए है।

इस विज्ञापन को लेकर आमिर खान व सीएट टायर का विरोध किया जा रहा है। हर बार आमिर खान के निशाने पर हिन्दू मत और संस्कृति होती है। लोगों का कहना है कि हम सीएट टायर खरीदकर जो पैसे कंपनी को देंगे उसमें से करोड़ों रुपये आमिर खान को मिलेगी ताकि वह फिर से हिन्दुओं को निशाने जैसा कोई काम करें। विज्ञापन में हिन्दू धर्म व रीति-रिवाजों विरोध के केंद्र में जानबुझ कर रखा जाता है। विज्ञापन का डॉयलॉग लिखने वाले भी हिन्दू विरोधी मानसिकता से ग्रसित होते हैं। सड़कों पर ट्रैफिक रोक कर नमाज़ पढ़ने का विरोध आखिर विज्ञापन बनाने वालों के दिमाग में क्यों नहीं आता? यह सबकुछ जानबूझकर और एक उद्देश्य की प्राप्ति के लिए किया जाता है। इसका जमकर विरोध होना चाहिए। टायर बाजार में सीएट से अच्छी बहुत कंपनियां है। सीएट कंपनी का टायर नहीं खरीदकर हम इसका जवाब दे सकते हैं।

टायर द्वारा एक विज्ञापन सोशल मीडिया पर साझा किया गया है। जिसमें ये बताने की कोशिश की गयी है पटाखे कहाँ जलाएं? विज्ञापन की शुरुआत में आमिर खान कहते है कि अनार बम, सुतली बम, चकरघिन्नी, आज हमारी टीम छक्के छुड़ाती है तो हम भी पटाखे छुड़ाएंगे लेकिन कहां सोसाइटी के अंदर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here