हरियाणा के रेवाड़ी में राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त छात्रा के साथ गैंगरेप

0
60
Gangrape

देश भर में भ्रष्टाचार से सिर से पांव तक लेथराई पुलिस के बल पर रेप और अपराध की वारदाताों पर अंकूश मुश्किल है। सरकार का पुलिस पर वाजिब नियंत्रण नहीं होना एक बड़ा कारण है। पुलिस का राजनीतिकरण इसके जड़ में है। सुप्रीम कोर्ट के पुलिस रिफार्म के आदेश के तहत पुलिसिंग व्यवस्था में संरचनात्मक बदलाव को लेकर कोई भी राज्य गंभीर नहीं है। उसी पुलिस को केस दर्ज करने, जांच का अधिकार और कानून व्यवस्था  को लागू करने के अधिकार से उसकी निरंकुशता बढ़ गई है। पुलिस थाने वसूली और ज्यादती के बड़े व व्यापक केंद्र बन गए हैं। थानों की यह पुलिस जब सड़क पर आती है ते भी उसका रूप वैसा ही दिखता है। जिला अदालतें भी अपने सामने ही पुलिस की गलत गतिविधियों देख कोई संज्ञान नहीं लेती। यही कारण है कि सबकुछ खिचड़ी बन जाता है और देश में बदस्तूर रेप जैसे घिनौने बढ़ते अपराध पर कोई नियंत्बरण नहीं लग पा रहा है। 

Gangrape

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। हरियाणा के रेवाड़ी में राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त छात्दुरा के अपहरण के बाद गैंगरेप की वारदात से सनसनी फैल गई है। छात्रा का अपहरण तब किया गया जब वह कोचिंग क्लास से घर लौट रही थी। तीन बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

बताया जाता है कि छात्रा रेलवे परीक्षा की तैयारी के लिए महेंद्रगढ़ के कनीना में कोचिंग कर रही थी। कोचिंग से लौटते समय तीन बदमाश युवकों ने उसका अपहरण कर लिया और नशीला पदार्थ पिलाकर रेप किया।

बीते 13 सितंबर को गुरुग्राम में ही एक महिला के साथ कार में गैंगरेप की वारदात हुई थी। गुरुग्राम जैसे शहर में इस तरह की घटनाएं महिला सुरक्षा के सभी दावों की हवा निकाल देती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here