इस संबंध में नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रधान नरेश कुमार व महासचिव जरनैल सिंह चिनालिया ने कहा कि सरकार के साथ कई बार बातचीत हुई है। सरकार ने सीवर, सफाई, फायर सहित तृतीय श्रेणी में लगे कर्मचारियों का ठेका प्रथा समाप्त कर विभागीय रोल पर रखने, समान काम-समान वेतन देने सहित कई मांगों को पूरा करने बात मानी थी। परंतु, आज तक एक भी मांग को पूरा नहीं किया गया।उन्होंने कहा कि सरकार की इस वादा खिलाफी के बाद आंदोलन के अलावा कोई विकल्प नहीं रह गया है। फिलहाल हम बुधवार व बृहस्पतिवार को धरना-प्रदर्शन कर सरकार को एक चेतावनी है। अगर सरकार इसे गंभीरता से लेती है तो ठीक अथवा आंदोलन का मजबूत विकल्प हमारे पास है।