कश्मीर राग पर भारत ने ओआईसी को लताड़ा, पाक की ‘औकात’ बताई

0
22
sushma-swaraj-on-pakistan-i

अंतरराष्ट्रीय नियमों की अवहेलना कर जानबूझकर भारत के आंतरिक मामले पर चर्चा करने पर भारत ने हद में रहने की दी हिदायत कहा, दुनिया जानती है पाकिस्तान की बेहूदा हरकतों को  

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (फोईल फोटो)।sushma-swaraj-on-pakistan-i

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो। 

नई दिल्ली। भारत ने ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (ओआईसी) की बैठक में पाकिस्तान की ओर से कश्मीर मुद्दा उठाने पर कड़ी आपत्ति जाहिर की है। भारत ने कहा, जानबूझकर अंतरराष्ट्रीय नियमों के खिलाफ काम करने में थोड़ा भी नहीं हिचकने वाला पाकिस्तान का व्यवहार निर्लज्जता वाला रहा है। भारत ने कड़े लहज़े में कहा कि समूह के साथ-साथ उसके सदस्य देशों के लिए भी यह पूरी तरह ‘अनुचित’ है कि किसी भी बहु-सांगठनिक व्यवस्था में भारत के आंतरिक मामलों पर चर्चा की जाए।

आईओसी की बैठक में पाकिस्तान। ↓

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा से अलग ओआईसी संपर्क समूह की बैठक में कश्मीर का राग अलापा। ओआईसी में पाकिस्तान की तरफ से ये मुद्दा उठाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘हम इस बात पर खेद व्यक्त करते हैं कि भारत के आंतरिक मामले से जुड़े मुद्दे पर एक बार फिर ‘ओआईसी’ में चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि भारत अपने आंतरिक मामलों का इस तरह जिक्र करने को स्वीकार नहीं करता है।

रवीश कुमार ने कहा कि हमने पहले भी कहा है कि ओआईसी को भारत के आंतरिक मामलों पर टिप्पणी करने का कोई अधिकार नहीं है और यह ओआईसी के साथ-साथ उसके सदस्य देशों के लिए भी पूरी तरह अनुचित है कि किसी भी बहु सांगठनिक व्यवस्था में भारत के अंदरूनी मामलों से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की जाए।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी द्वारा कश्मीर मुद्दा उठाए जाने के बारे में पूछे जाने पर रवीश कुमार ने कहा कि इस्लामाबाद लंबे समय से ऐसा करता रहा है। उन्होंने कहा, ‘यह पहली बार नहीं है कि वे अपनी द्विपक्षीय बैठकों में यह मुद्दा उठा रहे हैं। आप पाएंगे कि वे हमेशा एकतरफा कहानी कहते हैं। वह जो भी साझा करते या कहते हैं उसकी अंतरराष्ट्रीय समुदाय में कहीं भी कोई स्वीकार्यता नहीं है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को ये एहसास हो गया है कि उसके ‘झूठ’ और वह जो भी कह रहा है उसे अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने पहले ही खारिज कर दिया है।

सार्क सम्मेलन में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उनके पाकिस्तानी समकक्ष के बीच किसी तरह की बातचीत की संभावना पर रवीश कुमार ने कहा, ‘यह हमने पूरी तरह स्पष्ट कर दिया है कि यह भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय बैठक नहीं है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को जर्मनी, बोलिविया, अर्मेनिया, पनामा, ऑस्ट्रिया, एंटीगुआ और बारबुडा, चिली और ईरान के अपने समकक्षों समेत नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के साथ द्विपक्षीय बैठक की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here