मायावती ने नजदीकी विधायक रामवीर उपाध्याय को बसपा से बाहर किया

0
72
mayawati-ramveer-upadhyay

एक्जिट पोल के बाद पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप, पार्टी से निलंबित, विधानसभा मुख्य सचेतक पद से भी हटाया गया

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। एक्जिट पोल का असर विपक्ष पर दिखना शुरू हो गया है। बसपा ने एग्जिट पोल्स में बीजेपी को बहुमत दिखाने के साथ ही पार्टी सुप्रीमो मायावती ने पार्टी के विधायक रामवीर उपाध्याय को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में निलंबित कर दिया। बसपा महासचिव मेवालाल गौतम ने कहा, रामवीर उपाध्याय लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी विरोधि गतिविधियों में शामिल थे। उन्होंने आगरा, फतेहपुर सीकरी, अलीगढ़ समेत कई सीटों पर पार्टी प्रत्याशियों का खुलकर विरोध किया और विरोधी पार्टी के प्रत्याशियों का समर्थन किया।

मेवालाल गौतम ने कहा, रामवीर को तत्काल पार्टी से निलंबित कर दिया गया है और विधानसभा में बसपा के मुख्य सचेतक पद से भी हटा दिया गया है।

हालांकि, रामवीर उपाध्याय के भाजपा में जाने की चर्चा थी। बसपा से विधायक होने के चलते खुद पार्टी छोड़ने पर उनकी विधायकी खतरे में पड़ जाती। अब पार्टी से निकाले जाने के बाद रामवीर भाजपा में शामिल हो सकते हैं। रामवीर उपाध्याय के भाई मुकुल उपाध्याय भी बीजेपी में हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here