आतंकी साजिश के मद्देनज़र एहतियातन कश्मीर में मुहर्रम पर जुलूस पर रोक

0
1217
कश्मीर घाटी में सुरक्षा बंदोबस्त (फाइल फोटो)

धारा 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान कश्मीर में गड़बड़ी व आतंकी वारदातों को अंजाम देने को किसी भी हद तक जाने के तैयार है। भारत पाकिस्तान के सभी चालों को पलटने को लेकर बेहद गंभीर है।

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। धारा 370 के हटाए जाने के 37 दिन बीत जाने के बाद भी पाकिस्तान कश्मीर में गड़बड़ी फैलाने के लिए मौके की तलाश में है। मुहर्रम के मौके पर पाकिस्तान की तरफ से राज्य में आतंकी हमलों की खुफिया इनपुट के मद्देनज़र कश्मीर में मुहर्रम पर जुलूस निकालने पर रोक लगा दी गई है। कश्मीर खासकर घाटी में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। ताजिया को इमामबाड़ों में ही निकालने की इजाजत है।

गुह मंत्रालय के अनुसार कश्मीर घाटी में सुरक्षा के मद्देनजर कुछ नए इलाकों में प्रतिबंध लगाए गए हैं और अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती के आदेश दिए गए हैं। खुफिया सूचना के मुताबिक ताजिया जुलूस के दौरान आतंकी लोगों पर हमला कर सकते हैं।

उधर, कश्मीर पुलिस ने भी अपने आधिकारिक बयान में बताया है कि घाटी के ज्यादातर इलाकों में शांति है। किसी भी तरह की हिंसा को रोकने के लिए एहतियातन सुरक्षा कड़ी की गई है।