ऑटो सेक्टर में मंदी के लिए निर्मला सीतारमण ने ओला-उबर को ठहराया जिम्मेदार

0
90
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण।

वित्त मंत्री ने कहा, ” ऑटो-मोबाइल सेक्टर में गिरावट के लिए अन्य फैक्टर के अलावा लोगों के बदलता माइंडसेट भी है जिनके लिए ईएमआई की जगह ओला-उबर सर्विस चुनना आसान है।”

रिपोर्ट4इंडिया/ एजेंसी इनपुट सहित।

नई दिल्ली। ऑटो सेक्टर में मंदी को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सफाई दी है। उन्होंने कहा कि ऑटो सेक्टर ऑटो-मोबाइल इंडस्ट्री BS6 स्टैंडर्ड, रजिस्ट्रेशन फीस आदि के साथ ही मिलेनियल्स के माइंड सेट से सबसे ज्यादा प्रभावित है। उन्होंने कहा, मिलेनियल्स आजकल वाहन खरीदने की जगह ओला-उबर को तवज्जो दे रहे हैं।

चेन्नई में वित्त मंत्री ने कहा, आजकल लोग गाड़ी खरीदकर EMI भरने से ज्यादा ओला-उबर से चलना पसंद करते हैं। साथ ही, उन्होंने माना कि ऑटो सेक्टर बुरे दौर से गुजर रहा है और इसका जल्द हल निकलना चाहिए। वित्त मंत्री ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के सौ  दिन पूरे होने के उपलक्ष्य पर यहां प्रेस को संबोधित कर रहीं थीं।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार सभी सेक्टर्स की समस्याओं के लेकर गंभीर है और सार्थक कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि सरकार ने इसका हल निकालने के लिए अगस्त और सितंबर में दो बड़े ऐलान किए हैं और भविष्य में जरूरत पड़ने पर और भी घोषणाएं की जाएंगी।

उल्लेखनीय है कि ऑटो सेक्टर में मंदी की वजह से घरेलू बाजार में अगस्त में वाहनों की बिक्री में 23.55 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। इस तरह की गिरावट 2000 के दिसंबर में देखने को मिली थी, जब बिक्री में 21.81 फीसदी की गिरावट आई थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here