MAHARASHTRA: ‘जंग’ में ‘मात’ देने को कवायद देर रात भी जारी

0
384
शनिवार रात भाई के घर से निकलकर अपने आवास की ओर जाते महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजीत पवार।

सुप्रीम कोर्ट में रविवार को सुनवाई के मद्देनज़र शनिवार देर रात करीब डेढ़ बजे तक अजीत पवार व बीजेपी नेता वकीलों से बातचीत करते रहे।

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो/ नई दिल्ली।

महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम पद की शपथ ले चुके एनसीपी बागी गुट के अजीत पवार ने अभी हार नहीं मानी है। शरद पवार के नेतृत्व में एनसीपी की बैठक पूरे दिन चली। उस दौरान अजीत पवार को मनाने की कोशिशें भी होती रही। परंतु, अजीत पवार ने अपने कदम पीछे खींचने से साफ मना कर दिया। वे पूरे दिन अपने भाई के घर पर बैठ कर फोन पर बातचीत करते रहे। जैसे ही एनसीपी के विधायक बस में सवार होकर होटल के लिए पवई निकले, अजीत पवार अपने भाई के घर से निकलकर अपने ठिकाने पर पहुंचे। इसके बाद बीजेपी के नेता भी अजीत पवार के घर पहुंच गए।

रविवार को शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के मद्देनज़र शनिवार देर रात अजीत पवार और बीजेपी नेता वकीलों की टीम के साथ मंथन करते रहे। इस दौरान बीजेपी नेता आशीष शेलार ने एनसीपी में दोबारा विधायक दल के नेता चुने जाने को असंवैधानिक बताया। उन्होंने कहा, एनसीपी कानूनन ऐसा नहीं कर सकती है। अजीत पवार एनसीपी विधायक दल के नेता चुन लिए गए हैं और अब नेता बदलना संविधान सम्मत नहीं है। सुप्रीम कोर्ट में बीजेपी व अजीत पवार की तरफ से इस संबंध में दलील रखी जाएगी।

संविधान के जानकारों का मानना है कि सुप्रीम कोर्ट जल्द बहुमत सिद्ध करने के लिए कह सकता है परंतु, सरकार के गठन को बर्खास्त नहीं कर सकता है। यह भी संभव है कि सुप्रीम कोर्ट इस मामले में कुछ नया निर्देश जारी करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here