अमित शाह का जवाब, सरकार नहीं बनने के पीछे शिवसेना की ‘नई शर्त’

0
139
अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री।

चुनाव में मैंने और पीएम मोदी ने अपने कई सभाओं में देवेंद्र फडणवीस को अगला सीएम बताया। हमने कभी सीएम बदलने की बात नहीं की। गोपनीय चर्चा और बातों को सार्वजनिक करना बीजेपी का संस्कार नहीं।

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए 18 दिन कम नहीं, राष्ट्रपति शासन पर हाय-तौबा मचाने वाले सिर्फ राजनीति कर रहे हैं। किसी के पास भी बहुमत है तो वह राज्यपाल के पास कभी भी जा सकता है।

Report4india National Desk (With News Agency ANI)/ New Delhi.

नई दिल्ली। शिवसेना के लगातार बीजपी पर हमले को लेकर बुधवार को गृह मंत्री व बीजेपी अध्यक्ष महाराष्ट्र में मचे सियासी संग्राम पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए भाजपा अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मैंने सार्वजनिक रूप से कहा कि भाजपा-शिवसेना गठबंधन विधानसभा चुनाव जीतता है तो देवेंद्र फडणवीस ही मुख्यमंत्री होंगे। तब इस पर शिवसेना ने आपत्ति नहीं की। अब वह एक नई मांग को लेकर आ गए हैं, जो हमें स्वीकार नहीं है।’

साथ ही, अमित शाह ने महाराष्ट्र के राज्यपाल का बचाव कर कहा कि इससे पहले किसी भी राज्य को सरकार बनाने के लिए 18 दिन का समय नहीं दिया गया। शिवसेना के महाराष्ट्र में लगातार बीजेपी पर हमले को लेकर एक न्यूज़ एजेंसी के सवाल पर अमित शाह ने जवाब दिया।

अमित शाह ने इस मौके पर राष्ट्रपति शासन लगाए जाने पर विपक्षी दलों के मचाए जा रहे शोर पर कहा कि यह एक संवैधानिक पद पर हमला कर शुद्ध रूप से राजनीति की जा रही है। उन्होंवे कहा, आज भी किसी पार्टी के पास अगर संख्या है तो वह राज्यपाल से संपर्क कर सरकार बना सकता है।

अमित शाह ने कहा, इससे पहले किसी भी राज्य को सरकार बनाने के लिए इतना समय नहीं दिया गया था। महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए 18 दिन का समय दिया गया। राज्यपाल ने विधानसभा कार्यकाल समाप्त होने के बाद ही पार्टियों को आमंत्रित किया। तब न तो शिवसेना और न ही कांग्रेस-एनसीपी ने दावा किया और न ही हमने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here