Chandigarh University protest : छात्राओं-छात्रों का प्रदर्शन जारी, विवि व पंजाब पुलिस प्रशासन पर भरोसा नहीं Live

0
55
पंजाब के चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में छात्राओं का प्रदर्शन।

मामले को दबाने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन दो दोनों के लिए यूनिवर्सिटी बंद किये जाने की घोषणा की

report4india/ chandigarh-delhi.

मोहाली स्थित चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के एमएमएस कांड को लेकर छात्रों का प्रदर्शन तेज हो गया है। इस घटना को लेकर सुबह से ही छात्राओं व ड़ी संख्या में विवि के छात्र केंपस में धरने पर बैठे हुए हैं। छात्राओं का स्पष्ट तौर पर कहना है कि शुरू से ही विश्वविद्यालय व पंजाब पुलिस प्रशासन मामले की लापापोती में लगा हुआ है। आरोप है कि शुरू में ही पुलिस ने किसी भी तरह के वीडिया या एमएमएस बनाये जाने का खंडन किया।

छात्राओं का आरोप है कि घटना की जानकारी के बाद कई छात्राओं ने सुसाइड करने का प्रयास किया, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। परंतु, विवि और पुलिस प्रशासन यह मानने को तैयार नहीं हैं। वे झूठ बोल रहे हैं कि छात्राओं की तबीयत डी-हाइड्रेशन के चलते बिगड़ी है। जबकि यह गलत है। रात्रि के समय छात्राओं की डी-हाइड्रेशन से तबीयत खराब होने की बात मामले को दबाने का प्रयास है। छात्राओं हॉस्टल वार्डेन पर भी गंभीर आरोप लगाये हैं।

विवि कैंपस में घरने पर बैठे छात्रों ने प्रदर्शन तेय कर दिया है। छात्रों की मांग है कि विवि के वीसी सामने आएं और कई मांगों पर लिखित भरोसा दें। छात्रों ने यह भी आरोप लगाया है कि कई छात्रों को हॉस्टल से बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है। छात्राओं का साफतौर पर कहना है कि बड़ी संख्या में छात्राओं का एमएमएस बनाया गया है कि विवि केवल अपनी साख बचाने के लिए मामले पर पर्दे डाल रहा है और पुलिस-प्रशासन उनका सहयोग कर रहा है।

इसी बीच मामले को शांत करने की कोशिश के तहत विवि को दो दिन के लिए बंद किये जाने की घोषणा की गई। उधर, पंजाब सरकार ने विवि को पुलिस बल के हवाले कर दिया है। रात में भी छात्राओं का प्रदर्शन जारी है।