AYODHYA CASE : फैसले से पहले चीफ जस्टिस UP मुख्य सचिव और DGP से मिले

0
906

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर उठाए गए कदमों की समीक्षा की। केंद्र व राज्य के बीच समन्वय को लेकर जानकारी प्राप्त की।   

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। राम मंदिर पर फैसले से पहले सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई शुक्रवार को कोर्ट में उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह और मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी से मिले। चीफ जस्टिस ने अयोध्या पर फैसले के मद्देनजर सुरक्षा तैयारियां की समीक्षा की। बैठक में चीफ जस्टिस प्रदेश के दोनों उच्च अधिकारियों से प्रदेश की सुरक्षा व्यवस्था और खासकर संवेदनशील इलाकों की कानून-व्यवस्था की मौजूदा स्थिति के बारे में जानकारी ली।

चीफ जस्टिस ने फैसले के मद्देनज़र शांति बहाल रखने को धार्मिक नेताओं को विश्वास में लेने के साथ ही सुरक्षाकर्मियों की तैनाती केंद्र व राज्य के समन्वय को लेकर भी जानकारी ली।

हालांकि, फैसले के मद्देनज़र उत्तर प्रदेश सरकार हाई अलर्ट पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को जिले के अधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की।

केंद्र ने फैसले के मद्देनज़र सभी राज्यों को एडवाइजरी जारी की है और अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं।