Corona Strictness : घऱ की चौखट से बाहर पैर…यानी ‘लक्ष्मण रेखा लांघना’ : पीएम मोदी

0
135
कोरोना पर लॉकडाउन की घोषणा कर देश को संबोधित करते पीएम नरेंद्र मोदी।

कोरोना पर दुनिया में तबाही को रेखांकित कर पीएम मोदी ने देशवासियों से एकबार फिर अपील की, वे 21 दिनों के लिए घर से बिल्कुल बाहर न निकलें। जिंदा रहना है तो लॉकडाउन का सख्ती से पालन करें। 

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो/ नई दिल्ली।

कोरोना के संग्रकण को भारत में महामारी से बचाने के लिए एकबार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनता के सामने आए। उन्होंने देशवासियों से अपील कि की वे लॉकडाउन के नियमों का सख्ती से पालन करें। किसी भी तरह से कोरोना को इसी स्टेज पर रोकना जरूरी है। कोरोना के चेन को तोड़ना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा, इस दौरान घर के चौखट से बाहर कदम रखना मतलब लक्ष्मण रेखा लांघना होगा। मंगलवार को रात 12 बजे से पूरे देश को लॉकडाउन की घोषणा की गई। पीएम ने कहा, लॉकडाउन एक प्रकार से कर्फ्यू की ही तरह है। नेशनल डिजास्टर एक्ट के तहत लॉकडाउन लागू होगा।

पीएम मोदी ने 21 दिनों तक के लिए पूरे देश में सख्त लॉकडाउन की घोषणा की। उन्होंने कहा अगर देश 21 दिन तक संयमित जीवन जीने का संकल्प ले ले तो देश का 21 वर्ष बर्बाद होने से बच जाएगा। उन्होंने साफतौर पर कहा कि ईटली व अमेरिका ने जो गलतियां की है वह हमें सबक दे रही है। हमें हर हाल में इस संकट से उबरना है। उन्होंने कहा, सख्ती जरूरी लगे पर यह जीवन से बढ़कर नहीं है।

इसके साथ ही, पीएम मोदी ने कोरोना से लड़ने के लिए 15000 करोड़ रुपए की पैकेज की घोषणा की। यह राशि स्वास्थ्य सुविधाओं, मशीनों, दवाओं, अस्पतालों में सुविधाएं विकसित करने में खर्च की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here