द्रौपदी मुर्मू ने देश के 15वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ग्रहण कीं

0
21
द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति पद की शपथ ली।

संसद भवन के सेंट्रल हॉल में चीफ जस्टिस ने शपथ दिलाई

सबसे पहले वे राजघाट पहुंच राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित किया। राष्ट्रपति भवन के अधिकारियों-कर्मचारियों ने फूलों का गुलदस्ता देकर मुर्मू का स्वागत किया और कमरे और अन्य स्थानों पर ले गये। 

report4india/ New Delhi.

राष्ट्रपति के रूप में नवनिर्वाचित द्रौपदी मुर्मू का आज 25 जुलाई को शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन रायसीना हिल्स स्थित राष्ट्रपति भवन-संसद भवन और राजपथ पर हो रहा है। विजय चौक से द्रौपदी मुर्मू संसद भवन के लिए पहुंची। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी, उप राष्ट्रपति वेंकैय्या नायडू, लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला, मंत्री परिषद के सभी सदस्य, सभी राज्यों के गवर्नर, मुख्यमंत्री, सांसद आदि उपस्थित हैं। संसद भवन के केंद्रीय हॉल में भारत के चीफ जस्टिस रमन्ना ने पद व गोपनीयता की शपथ दिलायी।

शपथ ग्रहण के बाद उन्होंने अपला पहला संबोधन दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वे इस मौके पर देशवासियों का अभिनंदन करतीं हैं। स्वतंत्रता के 75वें वर्षगांठ पर उन्होंने कहा कि मैं पहली राष्ट्रपति हूं, जिसका जन्म स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद हुआ है। हमें स्वतंत्रता के इस अमृत काल में सबके सहयोग से तेजी से विकास कार्य करना होगा। उन्होंने एक छोटे से गांव में आदिवासी परिवार में जन्म हुआ जहां से कठिन जीवन के संघर्षों से सामना हुआ। आज इस पद पर पहुंचना भारत के लोकतंत्र की महानता है।