भारतीय नौसेना ने अरब सागर में चीनी जहाज को दिया तगड़ा जवाब

0
1483

नौसेना प्रमुख एडमिर करमबीर सिंह नौसेना दिवस के मौके पर दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने खुलासा किया कि, भारतीय नौसेना ने अपने विभिन्न अभियानों से 44 समुद्री डकैतों के प्रयासों को विफल किया है।

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। नौसेना प्रमुख एडमिर करमबीर सिंह खुलासा किया कि, भारतीय नौसेना ने अपने विभिन्न अभियानों से 44 समुद्री डकैतों के प्रयासों को विफल किया है। इसके साथ ही नैसेना ने 120 के करीब समुद्री डकैतों को अपने हिरासत में भी लिया है। वे नौसेना दिवस के मौके पर यहां प्रेस को संबोधित कर रहे थे।

इस दौरान उन्होंने पूछे जाने पर कहा कि चीनी जहाज शियान-1 को भारतीय जल सीमा छोड़ने के लिए क्यों कहा गया था। तो उन्होंने कहा कि हमारा रुख यह है कि यदि आपको हमारे विशेष आर्थिक क्षेत्र में काम करना है, तो आपको हमारी अनुमति लेनी होगी।

उत्तर-अरब सागर में चीन-पाकिस्तान नौसेना अभ्यास पर नौसेना प्रमुख ने कहा कि चीन और पाकिस्तान एक अभ्यास आयोजित करने वाले हैं और इस अभ्यास में भाग लेने के लिए उनके जहाजों को हिंद महासागर क्षेत्र (आईओआर) में प्रवेश करना होगा।

नौसेना प्रमुख ने कहा कि हम यह सुनिश्चित करने के लिए अपनी रक्षा और सुरक्षा रख रहे हैं कि आतंकवादी समूहों (जैसे कि अलकायदा) से खतरे को कम किया जाए। मैं आश्वस्त करना चाहता हूं कि तटरक्षक और अन्य सुरक्षा एजेंसियों के साथ नौसेना किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा कि रक्षा बजट में नौसेना की हिस्सेदारी में पिछले कुछ वर्षों में गिरावट आई है। 2012 में 18 प्रतिशत से यह 2018 में 12 प्रतिशत पर आ गया है। हिंद महासागर क्षेत्र में चीन की उपस्थिति बढ़ रही है और हम इसे लगातार देख रहे हैं।