मंत्री पार्थ चटर्जी और मंत्री की महिला सहयोगी अर्पिता मुखर्जी गिरफ्तार 

0
24

शिक्षक भर्ती घोटाले में ईडी की छापेमारी में अर्पिता के घर से 2000 और 500 के नोटों ढेर मिले हैं, जो 21 करोड़ 30 लाख रुपये है। बड़ी संख्या में बेनामी संपत्ति के कागजात भी बरामद। जांच जारी। 

report4india/ New Delhi.

शिक्षक भर्ती घोटाले में नोटों का जखीरा मिलने के बाद मंत्री पार्थ चटर्जी के बाद ईडी ने अब अर्पिता मुखर्जीं को भी गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ के बाद ईडी ने उसे गिरफ्तार किया है। इस मामले में कई लोगों के नाम सामने आये हैं। ईडी जांच के अर्पिता को उनके घर लेकर गई है। उधर, ईडी पार्थ चटर्जी को कोर्ट में पेश कर उन्हें रिमांड पर लेने की कार्रवाई कर रही है।

अर्पिता के घर में न केवल रुपयों के ढेर बल्कि कई ऐसे सरकारी दस्तावेज मिले हैं, जो आपत्तिजनक है। इसे लेकर पूछताछ के बाद ईडी अर्पिता को लेकर उसके घर पहुंची है। भ्रष्टाचार के इस खेल के खुलने से देश की जनता अचंभित है। अब लोगों को समझ में आ रहा है कि आखिरकार विपक्षी दल ईडी की छापेमारी व पूछताछ का विरोध क्यों करते हैं। क्यों मोदी सरकार को ईडी सरकार बोलकर हमला करते हैं। दरअसल, भ्रष्टाचार करने वाले इन नेताओं को मोदी सरकार से डर है, जिससे