PM MODI : बदलाव की ‘सनातन परंपरा’ का साक्षी रहा है भारत

0
149

स्वामी विवेकानन्द जयंती पर राष्ट्रीय युवा दिवस के 25वीं वर्षगांठ पर कार्यक्रम को संबोधित कर प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय स्वाभिमान को जाग्रत करने का प्रयास किया। इनोवेशन व ‘लोकल के लिए वोकल’ बनने का आह्वान। 

report4india bureau/ New Delhi.

आधुनिक विश्व में हिन्भादू धर्म, संस्कृति व परंपरा को विश्व पटल पर ले जाकर चर्चा व विचारों को नई गति देने वाले स्वामी विवेकानंद की जन्मजयंति पर राष्ट्रीय युवा महोत्सव का आगाज किया। इस दौरान उन्होंने वर्चुअल संबोदित किया और देश के युवाओं का आह्वान किया कि वह अपनी ताकत से वर्तमान विश्व में भारत को व्यापक स्थान दिलाने में जा-जान से लग जायें। इस दौरान उन्होंने कहा कि आज दुनिया भारत की तरह देख रही है, भारत की बात और विचार को साधने लगी है। दुनिया को भारत के प्रति नया भरोसा जगा है, हमें उसपर खरा उतरना है, हमें विश्व को नेतृत्व देना है।

उन्होंने इस मौके पर खासकर युवाओं को आगे आने की अपील की। उन्होंने भारत की ताकत व लक्ष्य दोनो को निर्धारित किया है। अर्थव्यवस्था, समाज व्यवस्ता और खेलों के क्षेत्र में युवाओं की भागीदारी, डिजिटल पेमेंट, लोकल के लिए वोकल बनने आदि का उल्लेख किया। उन्होंने नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125वीं जन्मजयंति और राष्ट्रीय युवा दिवस की 25वीं वर्षगांठ पर नये संकल्प के साथ आगे बढ़ने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि देश में बेटियों को सम्मान मिल रहा है। देश का युवा इनोवेशन में लगा हुआ है और यह मौका युवाओं में नये जोश का संचार करेगा।