हरियाणा टिकट बंटवारे में प्रमुख बिंदुओं पर निर्णय का अधिकार संघ ने सीएम पर छोड़ा

0
86
मनोहर लाल, सीएम हरियाणा (डिजाइन फोटो)

लोकसभा चुनाव में 10 सीटों पर जीत का परचम फहराने और रोहतक में पीएम की रैली के बाद से प्रदेश के सीएम मनोहर (नमोहर) लाल नई ‘ताकत’ से हैं लबरेज़ 

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। हरियाणा विधानसभा के 90 में से 75 सीटों पर जीत के लक्ष्य को लेकर सत्तारूढ़ भाजपा ने टिकट बंटवारे को लेकर नियमों और उम्मीदवारों के बारे में फैसला करीब-करीब पूरा कर लिया है। प्रदेश बीजेपी सरकार के मुखिया, प्रदेश व केंद्रीय संगठन और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के बीच कई बैठकों के बाद एक सर्वमान्य फार्मूला तय कर लिया गया है। पार्टी की कोशिश है कि चुनाव की घोषणा के साथ ही प्रथम चरण में उम्मीदवारों की सूचा जारी कर दे।

लोकसभा चुनाव में 10 सीटों पर जीत का परचम फहराने के साथ ही रोहतक में पीएम की रैली के बाद से प्रदेश के सीएम मनोहर (नमोहर) लाल नई ‘ताकत’ से लबरेज़ हैं। संघ व संगठन में विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक टिकट बंटवारे में कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर फैसला लेने का अधिकार सीएम पर छोड़ दिया गया है। दूसरे दलों से पार्टी में आए नेताओं के संबंध में भी निर्णय सीएम मनोहर ही लेंगे। केंद्रीय नेतृत्व टिकट वितरण को लेकर पार्टी के विधायकों, कार्यकर्ताओं सहित अन्य की दावेदारी को कसौटी पर कसने के प्रकल्प तय किया है।

दिल्ली बीजेपी मुख्यालय में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने हरियाणा टिकट वितरण को लेकर कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, संगठन महामंत्री बीएल संतोष, प्रदेश प्रभारी डॉ. अनिल जैन, हरियाणा चुनाव प्रभारी नरेंद्र सिंह तोमर, मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के साथ बैठक की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here