हुलिया बदलकर छुपा था देश के टूकड़े करने का मंसूबा ऱखने वाला गद्दार शरजील इमाम

0
320
शरजील इमम (पकड़े जाने के डर से हुलिया बदला)

देश के विभिन्न शहरों में जाकर मुसलमानों को भारत व खासकर हिन्दुओं के खिलाफ साजिश बुनने का प्रयास करने वाला गद्दार बिहार के जहानाबाद के एक मस्जिद से पकड़ा गया। पकड़े जाने की डर से वह हुलिया बदलकर छुपा था। 

पटना से कुमार विनय/ रिपोर्ट4इंडिया। 

सीएए और एनसीआर के विरोध को लेकर राजधानी दिल्ली सहित उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल आदि के विभिन्न शहरों में मुसलमानों के बीच जाकर उन्हें देश के खिलाफ उठ खड़े होने और भारत के टूकड़े कर देने का आह्वान करने वाला गद्दार शरजील इमाम को आखिरकार उसके गृह जनपद जहानाबाद के एक मस्जिद से गिरफ्तार कर लिया गया।

असम को तोड़ने के उसके मंसूबे का खुलासा होने के बाद देश में हड़कंप मच गया था। जहां कई राज्यों में उसके खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया वहीं देश की सुरक्षा एजेंसियों के कान भी खड़े हो गए। मामला उजागर होने के साथ ही शरजील दिल्ली से भागकर पहले पटना और उसके बाद अपने गृह जिला जहानाबाद पहुंच गया। पकड़े जाने की डर से वह अपने घर की जगह गांव काके की एक मस्जिद को अपना ठिकाना बनाया। शहर-शहर सड़क जाम करने और उत्तर-पूर्व के राज्य असम को देश से काटकर उसे आजाद करने की बात करने वाला शरजील बेहद डरपोक निकला। पुलिस व सुरक्षा एजेंसियों से बचने के लिए वह अपना हुलिया बदलकर छुपा था।

देशद्रोही शरजील का देश तोड़ने का वीडियो वायरल होने के साथ ही वह भूमिगत हो गया था। सुरक्षा एजेंसियों को उसका अंतिम लोकेशन पटना की जानकारी थी। उसके बाद वह अपने पास के सबी मोबाइल को बंद कर दिया था। पटना लोकेशन के बाद पुलिस को यह पता चल गया था कि शरजील अपने गृह जिला जहानाबाद में ही कहीं छुपा हुआ है। पुलिस ने सबसे पहले उसके नजदीकी रिश्तेदारों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पूछताछ में उन सभी ने शरजील के बारे में कोई जानकारी होने से इनकार किया। पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया परंतु, पुलिस को यह पुख्ता जानकारी थी कि वह बिहार से बाहर नहीं है।

इसी बीच एक गोपनीय खबर के आधार पर शरजील के भाई को पुलिस ने उठाया। पुलिस की यह सूचना बिल्कुल निशाने पर लगी। उसका भाई शरजील के संपर्क में था। पुलिस ने काके गांव की एक मस्जिद से शरजील को अपने कब्जे में लिया। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच जहानाबाद से लेकर पटना पहुंची है जहां गर्दनी बाग पुलिस थाने में उसे रखा गया है। बुधवार को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर उसे दिल्ली लाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here