स्नेहा दुबे, जिन्होंने UN में इमरान खान की बखिया उधेड़ी, बताई उसकी औकात

0
600
स्नेहा दुबे। संयुक्त राष्ट्र में भारत की प्रथम स्थायी प्रतिनिधि।

संयुक्त राष्ट्र के मंच पर इमरान के भाषण का जवाब जिस प्रकार से भारत की स्थायी प्रतिनिधि स्नेहा दुबे ने ऐसी घाव दी कि पाकिस्तान सालों तक सहलाता रहेगा   

रिपोर्ट4इंडिया/ नई दिल्ली।

नई दिल्ली। पाकिस्तान दुनिया के हर मंच पर भारत से पिटता रहता है फिर भी वह होश में नहीं आता। आतंकवाद को पालने-पोसने वाले पाकिस्तान के पीएम इमरान खान को संयुक्त राष्ट्र में भारत की स्थायी प्रतिनिधि स्नेहा दुबे ने ऐसा घोया कि पाकिस्तान का भारत के खिलाफ बोलना भारी पड़ गया। स्नेहा दुबे ने दुनिया के इस सबसे बड़े मंच पर इमरान खान को उसकी औकात बता दी।  उसे उसके हद में रहने की हिदायत भी दी।

संयुक्त राष्ट्र संघ में प्रथम सचिव के रूप में कार्यरत भारतीय महिला अधिकारी स्नेहा दुबे 2011 में पहले ही प्रयास में संघ लोक सेवा आयोग परीक्षा पास की थी। वह विदेश मामलों में रूची रखतीं थीं और वैश्विक स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व करना चाहतीं थीं।

पाकिस्तान कश्मीर मसले को लेकर भारत के खिलाफ जहर उगल रहा था। इमरान  खान ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा प्रदान करने वाले अनुच्छेद 370 को निरस्त करने पर भारत पर निशाना साधा तो स्नेहा दुबे ने जवाब में कहा कि आज की तारीख में पाकिस्तान और आतंकवाद एक-दूसरे का पर्याय बन चुके हैं। इमरान खान यूएन जैसे मंच का इस्तेमाल कर मेरे देश के खिलाफ दुर्भाग्यपूर्ण प्रचार करना बंद करे। पाकिस्तानी नेता इससे अपने देश की दुखद स्थिति से दुनिया का ध्यान हटाने की कोशिश कर रहे हैं, जहां आतंकी खुले घूमते हैं। जबकि आम नागरिक, खासकर अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के साथ अत्याचार किया जाता है। पाकिस्तान की सरकारी नीति के तहत आतंकी पलते हैं और आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देते हैं।