समाज सतर्क, भाईचारा-सौहार्द नहीं बिगड़ने देने का सर्वत्र संकल्प

0
116
बैठक में एक साथ हिन्दू-मुसलिम धर्मगुरु (फाइल फोटो)

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मद्देनज़र देश भर में शांति, भाईचारा व सौहार्द स्थापित करने को लेकर सामाजिक व प्रशासनिक स्तर पर बड़ी कवायद। सभी धर्मों के सम्मानित लोगों को मुहल्लों, कस्बों में लोगों से संवाद कर शांति बनाए रखने को कमर कसी।  

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो

नई दिल्ली। पिछले दो-तीन दिनों से पूरे देश में राम मंदिर विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के संभावित फैसले के मद्देनज़र शांति स्थापना को लेकर कमर कस चुके हैं। खासकर, उत्तर प्रदेश में सरकार और प्रशासन ने सभी संवेदनशील शहरों में वहां के सम्मानित लोगों से संपर्क साध शांति व सद्भाव के लिए काम करने की अपील की। इससे पहले, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के तत्वावधान में हिन्दू व मुसलिम धर्मगुरुओं के साथ बैठक कर फैसले के मद्देनज़र सर्वत्र शांति स्थापना को लेकर कवायद करने की अपील की। सामाजिक व नागरिक संगठनों से भी शांति बहाली के लिए काम करने का आह्वान किया गया।

पुलिस-प्रशासन अपने स्तर पर मुहल्लो, कस्बों में बैठक कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। खासकर, सोशल मीडिया पर भावनाएं भड़काने वाले तथ्यों को न तो पोस्ट करें और नहीं किसी ऐसे मैसेज को फार्वर्ड करें जिससे कि माहौल बिगड़ने की संभावना हो। पुलिस भी ऐसे लोगों को चिन्हित करने के लिए कमर कस चुकी है। सोशल मीडिया पर बेहद चौकस नज़र पुलिस व प्रशासन की है। साथ ही, सभी को जागरूक बनाने के लिए काम किए जा रहे हैं ताकि माहोल को बिगाड़ने वाले किसी भी प्रयास को वे सख्ती से विरोध कर सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here