उद्धव ठाकरे का अब ‘जय श्रीराम’ से भी किनारा, पहनावे में भी कांग्रेसी रंग

0
176
भगवा की जगह विधानसबा में सफेद कुर्ते में नज़र आए सीएम उद्धव ठाकरे।

उद्धव ठाकरे पर चढ़ता सेक्यूलरवाद का रंग, विधानसभा में बोले, जय श्रीराम का नारा हिन्दुत्व नहीं, शिवसेना के पहनावे का भी हुआ कांग्रेसीकरण

रिपोर्टे4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। कांग्रेस-एनसीपी के साथ जिस सेक्यूलरवाद का अंगीकार शिवसेना ने किया है उसका प्रभाव अब दिखने लगा है। शनिवार को विधानसभा में वंदेमातरम् के गायन से परहेज के बाद सीएम उद्धव ठाकरे ने रविवार को हिन्दुत्व और जय श्रीराम के नारे पर भी प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया।

महाराष्ट्र विधानसभा में स्पीकर चुनाव के बाद जब सीएम उद्धव ठाकरे ने भाषण दिया तो उन्होंने जय श्रीराम के नारे पर सवाल खड़ा कर दिया। उग्र हिन्दुत्व की लीक पर चलने वाली शिवसेना ने सत्ता में बैठने के साथ ही उससे किनारा करना शुरू कर दिया। सार्वजनिक रूप से हमेशा भगवा कुर्ता पहनने वाले उद्धव ठाकरे आज विधानसभा में सफेद कुर्ते में नज़र आए और कहा कि जय श्रीराम का नारा हिन्दुत्व नहीं है। महाराष्ट्र की जनता सहित राजनीतिक विचार रखने वाले लोग भी शिवसेना के इस चारित्रिक बदलाव से हैरान है।

इसके अलावा, मुंबई में सड़क के किनारे शिवसेना द्वारा लगाए पोस्टर में एक तरफ जहां स्व. बाल ठाकरे हैं वहीं, दूसरी तरफ सोनिया गांधी का फोटो है, जो आने जाने वालों के लिए हैरानी का विषय है। यहीं नहीं, इतनी तेजी से बदलाव पर दबी जुबान शिवसेना के कार्यकर्ता भी हैरान हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here