अपनी आदतों से बाज़ नहीं आ रहे ‘भड़काऊ राजनीति’ में अव्वल ओवैसी

0
1678

सुप्रीम कोर्ट के फैसले व वजूद पर ही सवाल खड़ा किया उठाया, फैसले को खैरात बताया

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। जैसा कि ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लमिन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी अपनी आदत और राजनीति के अनुरूप अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सवाल खड़े किए हैं। ओवैसी ने फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया में सुप्रीम कोर्ट पर बड़ा सवाल खड़ा किया।

ओवैसी ने मीडिया से बातचीत में बार-बार कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले को खामीपूर्ण बताते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम है परंतु, अचूक नहीं है। उन्होंने मामले को भड़काते हुए यहां तक कह दिया कि फैसला जो कुछ भी है हम अपनी नस्लों को यह बताते रहेंगे कि बाबरी मस्जिद को ढहाया गया।

ओवैसी के इस बयान में चारों तरफ से निंदा होनी शुरू हो गई है और इसे भड़काऊ माना जा रहा है। बाबा रामदेव ने ओवैसी के बयान की निंदा करते हुए कहा कि यह कोई बात नहीं हुई, गद्दारी वाली भाषा और व्यवहार उनकी आदत है। अगर वह अपनी नस्लों को यह बताएंगे कि   बाबरी मस्जिद गिराई गई तो हम भी अपनी आने वाली पीढ़ियों को बताएंगे हिन्दुओं के इस देश में बाहरी मुसलिम आक्रांता मोहम्मद बिन कासिम आया, बाबर आया, अकबर-हुमायूं आया देश को लूटा और नरसंहार किया। बाबा रामदेव ने कहा कि ऐसा कोई काम नहीं होना चाहिए, एक विवाद था वह खत्म हुआ और अब हमारी जिम्मेदारी है कि हम सभी विकास के रास्ते पर आगे बढ़ें।