होटल हयात में शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी का शक्ति प्रदर्शन, 162 विधायकों का दावा

0
1097

शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं की मौजूदगी में 162 विधायकों ने एकजुटता की शपथ ली. विधायकों को तीनों नेताओं का नाम लेकर बदनीयती से कोई काम नहीं करने, भाजपा का समर्थन नहीं करने की शपथ दिलाई गई।

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में जारी सियासी घमासान के बीच शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने हयात होटल में अपने विधायकों के साथ शक्ति प्रदर्शन किया। इस दौरान तीनों ही दलों के करीब 162 विधायक मौजूद थे और तमाम दलों के सिनियर नेताओं ने अपने विधायकों के साथ एकजुटता की शपथ ली।

इस दौरान कांग्रेस नेता व पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने विधायकों की परेड को संबोधित करते हुए कहा कि हम केवल 162 नहीं, 162 से अधिक हैं। महाअघाड़ी की ही सरकार बनेगी और हम स्थिर सरकार देंगे। उन्होंने कहा कि हम राजभवन गए और 162 विधायकों की चिट्ठी उन्हें सौंपी है। जनता के चुने हुए विधायक यहां बैठे हैं। किसी और को मौका नहीं मिलना चाहिए।

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम पिछले 25-30 सालों से आपके साथ थे, तब आप नहीं समझ पाएंगे। अब हम बताएंगे शिवसेना क्या चीज है। उन्होंने कहा कि हम सिर्फ 5 साल सरकार बनाने के लिए नहीं, लंबे समय तक चलने के लिए साथ आए हैं।

शरद पवार ने कहा कि हम यहा महाराष्ट्र की जनता के लिए यहां जुटे हैं। गठबंधन सिर्फ कुछ समय के लिए नहीं, लंबे समय तक के लिए हैं। भाजपा को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग केंद्र में हैं उन्होंने एक और राज्य में यह काम किया था। यह उनका इतिहास है। उन्होंने गलत तरीके से यह सरकार बनाई है। पवार ने कहा कि महाराष्ट्र में कुल 288 सीटें हैं। सबसे ज्यादा जीते विधायक यहां पर हैं।