देश में पहली बार पहुंचे 3 राफेल लड़ाकू विमान, हाथ आजमाएंगे वायुसेना के पायलट

0
130
Rafael-fighter-plane

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार घाटोले का आरोप लगा रहे हैं। इस महत्वपूर्ण लड़ाकू विमान को लेकर देश में हो रही राजनीति के बीच फ्रांस के तीन राफेल लड़ाकू विमान मध्य प्रदेश के ग्वालियर एयरबेस पहुंचे।

Rafael-fighter-plane

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

ग्वालियर। दुनिया के महत्वपूर्ण चौथी पीढ़ी का लड़ाकू विमान राफेल को लेकर देश में राजनीति गरम है। लगातार कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी इस मुद्दे को उछाल रहे हैं। इसी बीच तीन राफेल लड़ाकू विमान भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होने के लिए रविवार को भारत पहुंच चुके हैं। ये तीनों राफेल लड़ाकू विमान ग्वालियर के एयरबेस पर पहुंचे हैं, जहां अगले तीन दिनों तक भारतीय वायुसेना के पायलट ट्रेनिंग लेंगे।

असल में, फ्रांस वायुसेना के तीन राफेल लड़ाकू विमान ऑस्ट्रेलिया में एक अंतरराष्ट्रीय युद्धाभ्यास में शामिल होने गए थे और वापसी में ग्वालियर में रुके हैं। इस अभ्यास में भारतीय वायुसेना ने भी हिस्सा लिया था और ऐसे में अब एक साझा अभियान के तहत भारतीय वायुसेना के पायलट ग्वालियर में राफेल लड़ाकू विमान उड़ाएंगे। जबकि फ्रांस वायुसेना के पायलट मिराज 2000 लड़ाकू विमानों पर हाथ आजमाएंगे।

ऑस्ट्रेलिया में हुए पिच ब्लैक युद्धभ्यास में भारतीय वायुसेना के ट्रांसपोर्ट और सुखोई-30 विमानों ने हिस्सा लिया था। ग्वालियर एयरबेस पर रविवार से शुरू हो रहे इस साझा अभ्यास के दौरान फ्रांस के पायलट उन्नत मिराज-2000 विमान उड़ाएंगे जबकि भारतीय वायुसेना के पायलट राफेल लड़ाकू विमान पर अभ्यास करेंगे। आने वाले दिनों में जब राफेल लड़ाकू विमान भारत पहुंचेंगे उससे पहले भारतीय पायलटों के लिए इस पर अभ्यास उनके लिए बेहतर होगा।

उल्लेखनीय है कि सितंबर 2019 तक कई राफेल लड़ाकू विमान भारत पहुंच जाएंगे। भारत को 36 राफेल लड़ाकू विमान फ्रांस से मिलने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here