राहुल के ‘भूंकप’ के झटके से ‘तबाह’ होने का खतरा!

0
12
rahul-gandhi-bhukamp

राहुल गांधी ने कहा था कि लोकसभा में 15 मिनट बोलने का समय मिल जाए तो वे भूंकप ला देंगे। अविश्वास प्रस्ताव के माध्यम से उनको मौका मिला है। देश कृत्रिम भूंकप का मज़ा लेने को तैयार है। प्रधानमंत्री मोदी संसद में कोर ग्रुप की बैठक को संबोधित कर रहे हैं। उधर, कांग्रेस ने बहस से पहले कम समय मिलने का आरोप लगा दिया है जबकि सदन में सभी पार्टियों की संख्या के हिसाब से समय तय किया गया है। कांग्रेस के हिस्से में 38 मिनट का समय है जो राहुल के मांगे गए 15 मिनट के समय से दोगुना से अधिक समय दिया गया है।    

rahul-gandhi-bhukamp

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने एकबार कहा था कि मुझे संसद में केवल 15 मिनट दें तो मैं भूकंप ला दूंगा। प्रधानमंत्री मोदी मेरे सामने टिक नहीं पाएंगे। आज शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव पर संसद में चर्चा के बाद वोटिंग होनी है। इसमें कोई शक नहीं सदन हंगामेदार रहेगा। वैसे तो सत्ता पक्ष ने अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार कर कांग्रेस सहित विपक्ष को फंसा दिया है। विपक्ष को दरअसल उम्मीद थी कि सरकार इस प्रस्ताव को स्वीकार नहीं करेगी और उन्हें सत्र को डि-रेल करने का मौका मिलता रहेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस समर्थित विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव को स्वीकार कर कांग्रेस पर ही भूकंप का असर डालने का पूरा प्रबंध कर लिया है।

यह साफ है कि आंकड़े मोदी सरकार के पक्ष में है। राहुल गांधी को तो सिर्फ 15 मिनट का मौका मिला है भूकंप लाने का। कई लोग तो कह रहे हैं कि देखना का है कि सदन का भूंकप कैसा होगा। प्रस्ताव पर चर्चा के लिए सभी पार्टियों के लिए संख्या बल के आधार पर समय तय किया गया है। लोकसभा में 44 सीटों वाली कांग्रेस के हिस्से में 38 मिनट का समय आया है। हालांकि, कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि उन्हें जो 38 मिनट का समय मिला है वह कम है।

उधर, मोदी सरकार में मंत्री अविश्वास प्रस्ताव से ठीक पहले बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह ने राहुल गांधी पर चुटकी लेते हुए एक ट्वीट किया है- लिखा है-  भूकंप के मज़े लेने के लिए तैयार हो जाइए। गिरिराज ने ट्वीट से राहुल गांधी के उस बयान को लेकर चुटकी ली है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here