राजनाथ, मायावती, सोनिया सहित कई नेताओं को सीआईसी का समन

0
56

CIC-02सभी नेताओं को 22 जुलाई को आयोग की पूर्ण पीठ के सामने उपस्थित होने को कहा

नई दिल्ली। मांगी गई सूचना का जवाब नहीं देने पर छह राष्ट्रीय दलों के शीर्ष नेताओं सोनिया गांधी, मायावती, प्रकाश करात, शरद पवार, राजनाथ सिंह, और सुधाकर रेड्डी को केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) ने नोटिस भेजा है। आयोग ने आदेश में इन सभी नेताओं को 22 जुलाई को आयोग की पूर्ण पीठ के सामने उपस्थित होने को कहा है। पीठ में सूचना आयुक्त बिमल जुल्का, श्रीधर आचार्युलू और सुधीर भार्गव होंगे जो जैन की याचिका पर सुनवाई करेगी।

आरटीआई अर्जी पर जवाब न देने के कारण इन नेताओं ने को सीआईसी के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है। इन सभी नेताओं के नाम से नोटिस तभी जारी किया गया जब शिकायकर्ता आरके जैन ने आरोप लगाया कि सीआईसी के रजिस्ट्रार ने छह राष्ट्रीय राजनीतिक दलों भाजपा, कांग्रेस, बसपा, एनसीपी, माकपा और भाकपा के खिलाफ उनकी शिकायतों से निपटने में दोहरे मानदंड अपनाए।

rajnath-soniya-mayawati-01इस मामले को लेकर पहले आयोग ने केवल कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नाम से नोटिस भेजा था जबकि अन्य नोटिस पार्टी प्रमुखों को संबोधित करते हुए भेजे गए थे। आयोग ने 2013 में आरटीआई कानून के तहत इन दलों को जवाबदेह घोषित किया था।

इस संशोधन के बाद जैन ने फरवरी, 2014 में कांग्रेस और अन्य राजनीतिक दलों को आरटीआई अर्जी भेजकर उनके चंदे, आंतरिक चुनावों आदि की जानकारी मांगी थी। कोई जवाब नहीं मिलने पर सीआईसी में शिकायत दाखिल की।

आयोग ने आदेश जारी किया है कि सभी नेताओं को 22 जुलाई को आयोग की पूर्ण पीठ के सामने उपस्थित होने के लिए कहा है। पीठ में सूचना आयुक्त बिमल जुल्का, श्रीधर आचार्युलू और सुधीर भार्गव होंगे जो जैन की याचिका पर सुनवाई करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here