इमरान आतंक से नहीं लड़ सकते तो भारत से कहें : राजनाथ सिंह

0
12
rajnath-singh-in-ahmadabad

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री बने इमरान खान के कश्मीर मुद्दे के जबाव में कहा, जम्‍मू-कश्‍मीर तो कोई मुद्दा ही नहीं, आतंकवाद ही असली मुद्दा 

राजनाथ सिंह, केंद्रीय गृहमंत्री। राजनाथ सिंह (फोटो-@rajnathsingh)

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

जयपुर। पाकिस्तानी आर्मी के सपोर्ट पर पाकिस्तान में लोकतंत्र के नाम प्रधानमंत्री बने इमरान खान ने करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास के मौके पर कश्मीर राग छेड़ा था, जिसका जवाब भारतीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह रविवार को यहां दिया। राजस्‍थान विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए यहां पहुंचे राजनाथ सिंह पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। इस दौरान उन्‍होंने कहा, जम्‍मू-कश्‍मीर नहीं बल्कि मुद्दा आतंकवाद है और पाकिस्‍तान इस पर चर्चा कर सकता है।

गृहमंत्री ने कहा, मैं पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान से कहना चाहता हूं कि अगर पाकिस्तान में हमारी मदद से आतंकवाद और तालिबान के खिलाफ लड़ाई जारी रखी जा सकती है तो पाकिस्‍तान आतंकवाद के खिलाफ भारत की मदद मांग सकता है। पाकिस्‍तान को लगता है कि आतंकवाद से वह अकेले नहीं लड़ सकता, तो उसे भारत से मदद मांगनी चाहिए।

करतारपुर कॉरिडोर आधारशिला के मौके पर इमरान खान और उसके बाद पाक विदेश मंत्री के बयान पर मामला गरम है। पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा है कि इमरान खान की गुगली पर भारत ने दो मंत्रियों को करतारपुर भेजा। परंतु, उनको जवाब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दिया और कहा कि भारत उनकी गुगली में नहीं फंसा, बल्कि हमारे दो मंत्री इसलिए वहां गए ताकि वे करतारपुर साहिब का प्रार्थना कर सकें।

इससे पहले इमरान खान ने कहा था कि दोनों मुल्कों के बीच कश्मीर ही एक मसला है और बातचीत के जरिए उसे हल किया जा सकता है। इमरान ने यह भी कहा कि भारत इस दिशा में एक कदम चले तो वह दो कदम आगे चलने को तैयार हैं। अब राजनाथ सिंह ने इमरान को जवाब दिया है कि भारत का पाकिस्तान से मसला कश्मीर नहीं है, बल्कि आतंकवाद है। यदि आतंकवाद से लड़ने में पाकिस्केतान काबिल नहीं है तो वह भारत से इसके लिए मदद मांग सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here