राकेश अस्थाना को राहत नहीं, जांच जारी रहेगी

0
16
rakesh-asthana

राकेश अस्थाना ने गिरफ्तारी से बचने के लिए कोर्ट से दो सप्ताह का समय मांगा था। 20 दिसम्बर को ही कोर्ट ने याचिका पर फैसला सुरक्षित रख लिया था। 

rakesh-asthana

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। अवकाश पर भेजे गए सीबीआई के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना को दिल्ली हाईकोर्ट ने राहत देने से इनकार कर दिया है। कोर्ट ने अस्थाना के खिलाफ जांच को अगले 10 हफ्तों में पूरा करने का भी आदेश दिया है। राकेश अस्थाना ने गिरफ्तारी से बचने के लिए दो हफ्ते का समय मांगा था।

न्यायमूर्ति नजमी वजीरी ने 20 दिसंबर 2018 को दोनों पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा ने कहा था कि अस्थाना के खिलाफ रिश्वतखोरी के आरोपों में प्राथमिकी दर्ज करते समय सभी अनिवार्य प्रक्रियाओं का पालन किया गया था।

सीबीआई निदेशक रहे आलोक वर्मा ने कहा था कि अस्थाना के खिलाफ रिश्वतखोरी के आरोपों में एफआईआर दर्ज करते समय सभी अनिवार्य प्रक्रियाओं का पालन किया गया था। शिकायतकर्ता हैदराबाद के कारोबारी सतीश बाबू सना ने आरोप लगाया था कि उसने एक मामले में राहत पाने के लिए रिश्वत दी थी। सना ने अस्थाना के खिलाफ भ्रष्टाचार, जबरन वसूली, मनमानापन और गंभीर कदाचार के आरोप लगाए थे। सीबीआई के डीएसपी देवेंद्र कुमार के खिलाफ भी FIR दर्ज की गई थी।

सीबीआई ने 15 अक्टूबर 2018 को अस्थाना के खिलाफ FIR दर्ज करके उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए थे। कारोबारी सतीश बाबू सना की शिकायत के आधार पर आरोप लगे हैं।

सना से मोइन कुरैशी मामले की जांच कर रही अस्थाना की विशेष टीम ने पूछताछ की थी। कारोबारी ने आरोप लगाया था कि दुबई के एक बिचौलिये ने विशेष निदेशक से उसके कथित संबंधों की मदद से दो करोड़ रुपये की रिश्वत के बदले उनके लिए राहत का प्रस्ताव रखा था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here