नवसंवत्सर पर BHU भारतीयम् छात्र संघम् का  लंगर आयोजन

0
72
वाराणसी में संकट मोचन –लंका मार्ग पर हिन्दू नववर्ष के मौके पर भारतीयम् छात्र संघम् बीएचयू के सदस्य छात्रों ने लंगर-प्रसाद वितरण कर एक-दूसरे को शुभकामनाएं दीं।

बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय इतिहास विभाग के प्रो. राकेश पाण्डेय के मार्गदर्शन में ‘छात्र संघम्’ का संकल्प, “भेदभाव विहीन भारतीय समाज निर्माण के प्रयास में हो सबकी भागीदारी”  

Varanasi news @report4india/ new delhi.

हिंदू नववर्ष (नवसंवत्सर) के पवित्र मौके पर बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के भारतीयम् छात्र संघम् शाखा की ओर से यहां यहां लंगर का आयोजन किया गया। इस आयोजन के प्रेरणास्त्रोत बीएचयू के इतिहास विभाग के प्रो. राकेश पाण्डेय रहे, जिन्होंने ‘छात्र संघम्’ से जुड़े सदस्य छात्रों को इस पवित्र मौके पर समाज व राष्ट्र हित में कार्य करने को प्रेरित किया। छात्रों ने लंका-संकट मोचन मार्ग स्थित आनंद पार्क व आसपास की बस्तियों में लंगर प्रसाद का वितरण किया और सभी को नववर्ष की बधाई दी।

लंगर-प्रसाद का वितरण करते भाछासं के सदस्य छात्र।

इस संबंध में प्रो. राकेश पाण्डेय ने बताया कि वर्तमान में वैश्विक व स्थानीय स्तर पर उथल-पुथल के साथ ही एक अजीब-सी बेचैनी का दौर है। ऐसी स्थिति में जहां विश्व को भारतीय समाज से उम्मीद है वहीं, भारतीय समाज को अपने इतिहास-दर्शन व संस्कृति से है। ऐसे में, यह वक्त अपने गौरवशाली अतीत का स्मरण के साथ ही युवाओं में सत्य-संदेश के फैलाव का भी है।

उन्होंने कहा, यह आयोजन पुनित मौके को निहारने, उसे स्वयं में समाहित कर ओज व गर्व प्राप्त करने का भी है। भारतीय समाज-संस्कृति में उत्सवों का आयोजन व्यक्ति को प्रेम-स्फूर्ति से भर देता है, संबल पैदा करता है।

कार्यक्रम में उपस्थित छात्र संघम् के सदस्य छात्रों ने बताया,  लंगर में प्रसाद वितरण का उद्देश्य भेदभाव विहीन भारतीय समाज स्थापना है। सशक्त समाज की स्थापना जातिगत भेदभाव की दुर्भावना को दूर कर ही किया जा सकता है। इसी संकल्प के साथ सभी ने एक-दूसरे को हिंदू नववर्ष की शुभकामनाएं दीं।

इस दौरान छात्र संघम् बीएचयू शाखा के पदाधिकारी-सदस्य छात्र प्रिंस उपाध्याय, शिखर श्रीवास्तव, अनुराग वर्मा आदि आलोक कुमार, सत्यम सिंह, ऋषभ उपाध्याय, महर्षि पाठक, दीपक गोंड, तन्वी जैन, पायल यादव, सुप्रिया तिवारी, सर्जना मौजूद थीं।