मोदी सरकार में रिकॉर्ड लगातार तीसरी बार रेपो रेट में कटौती

0
54
repo-rate-RBI

आरबीआई ने एकबार फिर रेपो रेट में 0.25 फीसद की कटौती की। कटौती के बाद नई रेपो रेट 5.75 फीसद, लोन ईएमआई पर उपभोक्ताओं को बड़ी राहत  

रिपोर्ट4इंडिया/ अर्थ डेस्क।

नई दिल्ली। मोदी सरकार पार्ट-2 के शुरू में ही लोन उपभोक्ताओं में आरबीआई ने बड़ी राहत दी है। सरकार के दूसरे कार्यकाल में पहली मौद्रिक समीक्षा बैठक में रेपो रेट में 0.25  फीसदी की कटौती की गई है। मोदी सरकार ने रिकॉर्ड लगातार तीसरी बार लोन कर दाताओं को लाभ दिया है। कटौती के बाद नई रेपो रेट 5.75 फीसद हो गई है। रिजर्व बैंक के इतिहास में यह पहली बार है जब आरबीआई गवर्नर की नियुक्‍ति के बाद लगातार तीसरी बार रेपो रेट में कमी आई है। बीते दिसंबर में उर्जित पटेल के इस्‍तीफे के बाद शक्तिकांत दास आरबीआई गवर्नर नियुक्‍त बने थे।

मोदी सरकार में आरबीआई के रेपो रेट कटौती का फायदा उपभोकताओं को देने का दबाव है। आरबीआई के इस फैसले के बाद बैंकों पर ब्‍याज दर कम करने का दबाव बनेगा। ब्‍याज दर कम होने से होम या ऑटो लोन की ईएमआई में कमी आएगी। बैंक से नए लोन में पहले के मुकाबले ज्‍यादा राहत मिलेगी।

इसके अलावा ऑनलाइन ट्रांजेक्‍शन करने वालों को भी आरबीआई ने राहत दी है। रिजर्व बैंक ने RTGS और NEFT लेनदेन पर लगाए जाने वाले शुल्क को हटा दिया है। यानी अब RTGS और NEFT के जरिए ट्रांजेक्‍शन करने वाले लोगों को किसी भी तरह का एक्‍स्‍ट्रा चार्ज नहीं देना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here