सासाराम लोकसभा सीट से मीरा को आउट करने के मुड में राजद

0
50
meira-kumar-lalu-yadav

सासाराम लोकसभा सीट से बाबू जगजीवन राम जीवन भर सांसद रहे। उनके बाद उनकी पुत्री मीरा कुमार इस सीट से सांसद रहीं हैं। लेकिन इस सीट से तीन बार बीजेपी और एक बार राजद के उम्मीदवार जीत चुके हैं। राजद की जीद की चलते परेशान मीरा कुमार ने रांची जाकर लालू से मुलाकात की।

meira-kumar-lalu-yadav

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

सासाराम। बिहार में लोकसभा सीटों के बंटवारे को लेकर राजद के नेतृत्व में महागठबंधन में समझौता नहीं पा रहा है। इसके कई राजनीतिक कारण हैं। पहले तो, नीतीश कुमार के अलग होने और सत्ता से राजद के बेदखल होने से इस गठबंधन में शामिल कांग्रेस ने अपने लिए कुछ ज्यादा की मांग कर दी है। कांग्रेस का कहना है कि यह लोकसभा का चुनाव है और बदले राजनीतिक हालात में वह क्षेत्रीय दल राजद से ज्यादा असरदार होगी। दूसरी बात कि बिहार में कांग्रेस को उसके अनुसार सीटों का बंटवारा करे।

राजद के सूत्रों की मानें तो तेजस्वी यादव कम से कम बिहार की लगाम अपने हाथ में ही रखना चाह रहे हैं। उन्होंने इसके संकेत भी कांग्रेस को दिया है और कहा कि वर्तमान में सीटों के मामले में कांग्रेस को ही एडजस्ट करना है।

दूसरी तरफ राजद पश्चिमी बिहार के तीन लोकसभा सीटों पर लड़ने को लेकर मन बना चुकी है जिसमें सासाराम का सीट भी शामिल है।

इसे लेकर परेशान सासाराम से पूर्व सांसद मीरा कुमार रांची जाकर लालू प्रसाद से मिलीं और उन्हें सीटों के बंटवारे और तमाम मुद्दों पर हस्तक्षेप करने की मांग की। हालांकि, बताया यह जा रहा है कि मीरा कुमार राहुल-सोनिया का संदेश लेकर लालू से मिली हैं। मीरा कुमार के साथ रालोसपा के नेता उपेंद्र कुशवाहा भी थे। माना जा रहा है कि किसी कारणवश उप्र की तरह बिहार में कांग्रेस राजद गठबंधन से बाहर निकली तो उसके साथ उपेंद्र कुशवाहा शामिल हो सकते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here