सिद्धू पाकिस्तान के नए एजेंट, ईशारे पर कठपुतली की तरह नाच रहे

0
14
harsimrat-kaur-navjot-siddhu

केंद्रीय मंत्री और अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर का आरोप

पाकिस्तान के सेना प्रमुख से गले मिलने पर सिद्धू को सुषमा स्वराज ने लगाई फटकार कहा, वीजा का गलत फायदा उठाया

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली। पाकिस्तान जाकर पाकिस्तानी सेनाध्यक्ष से गले मिलने और अन्य दावों को लेकर केंद्रीय मंत्री और अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कांग्रेस नेता व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर तगड़ा हमला बोला है। उन्होंने दावा किया कि सिद्ध के ‘पाकिस्तान प्रेम’ को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी उन्हें जमकर फटकार लगाई है।

हरसिमरत ने कहा, माफी मांगने की जगह उन्होंने लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया। सिद्धू का यह कहना कि उन्होंने जनरल को इसलिए गले लगाया क्योंकि उन्होंने (जनरल) कहा था कि करतारपुर कॉरीडोर खोला जाएगा।

harsimrat-kaur-navjot-siddhuहरसिमरत ने आगे कहा, ‘सच्चाई ये है कि इस बारे में पाकिस्तान सरकार ने अभी तक कोई बात नहीं की है… सभी भूल गए कि वो (सिद्धू) दुश्मन देश में गए थे। हफ्तों बीत गए, लेकिन कांग्रेस के मंत्री एक दस्तावेज भी नहीं दे सके.’ उन्होंने कहा, ‘मैंने विदेश मंत्री को लिखा कि ऐसा बताया जा रहा है कि पाकिस्तान सरकार ने करतारपुर कॉरिडोर को हरी झंडी दे दी है और हमारी सरकार इस बारे में कोई कदम नहीं उठा रही है। जब उनका पत्र मुझे मिला तो मैं हैरान रह गई क्योंकि उन्होंने बताया कि ऐसा कुछ भी नहीं है। पाकिस्तान सरकार ने इस बारे में कभी कुछ नहीं कहा।’

उन्होंने बताया कि विदेश मंत्री ने इसके लिए सिद्धू को तगड़ी फटकार लगाई। उन्होंने करतारपुर साहिब कॉरिडोर वार्ता को बिगाड़ दिया और पाकिस्तान जाने के लिए उन्हें दी गई इजाजत का गलत इस्तेमाल किया। उन्होंने सिद्धू द्वारा पाकिस्तानी सेना प्रमुख को गले लगाने के लिए भी फटकार लगाई, जो हमारे सैनिकों की हत्या का जिम्मेदार है।

कौर ने कहा कि अगर वो पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के इतने ही अच्छे दोस्त हैं तो वो ही पाक पीएम द्वारा भेजा गया पत्र दिखा दें। ‘वो जैसे ही पत्र दिखा देंगे, मैं 24 घंटे के अंदर अपनी सरकार से कॉरिडोर चालू करवा दूंगी।’ उन्होंने सिद्धू पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो पाकिस्तान के नए एजेंट हैं और पाकिस्तान उनका इस्तेमाल कठपुतली की तरह कर रहा है और सिद्धू उनकी धुन पर नाच रहे हैं।‘

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here