असभ्यता और महिलाओं को भोग की वस्तु समझने वाले ‘नजरिये’ पर करारा प्रहार    

0
180
hardik-pandya-&-kl-rahul

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी हार्दिक पंड्या और केएल राहुल को सिडनी वनडे से बाहर किया गया। बिगड़े बोल की मिली सज़ा। कड़े प्रतिबंध की तलवार भी लटकी। पूरे वनडे से बाहर कर वापस भारत बुलाया जा सकता है।

टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ में भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी केएल राहुल और हार्दिक पंड्या। hardik-pandya-&-kl-rahul

रिपोर्ट4इंडिया खेल डेस्क।  

नई दिल्ली। भारतीय संदर्भ में खेल अनुशासन और संस्कार का पर्याय है। एक खिलाड़ी सार्वजनिक रूप से असभ्यता फैलाए और महिलाओं को भोग की वस्तु समझने वाले नजरिये का बखान करे तो उसपर कार्रवाई लाजिमी है। टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ में महिलाओं को लेकर अश्लील टिप्पणी करने वाले ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या और बल्लेबाज केएल राहुल ऑस्ट्रेलिया को पहले वनडे से बाहर कर दिया गया है। बीसीसीआई के सीओए ने ईमेल से यह जानकारी दी है। साथ ही, यह भी कहा गया है कि दोनों खिलाडियों पर और कड़े एक्शन लिए जा सकते हैं।

यह भी जानकारी दी गई है कि हार्दिक पंड्या और लोकेश राहुल के खिलाफ 15 दिनों तक के लिए जांच समिति का गठन किया जा सकता है। दोनों खिलाफ पूरी वनडे सीरीज से बाहर हो सकते हैं और उन्हें वापस भारत बुलाया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ में हार्दिक पंड्या और केएल राहुल में शो के दौरान उनकी निजी जिंदगी के बारे में पूछे गए सवाल में बेहद आपत्तिजनक बातें कहीं, जो बेहद गोपनीय थी और जिन्हें सार्वजनिक रूप से कोई बयान नहीं कर सकता था। हार्दिक पंड्या ने इस दौरान रिलेशनशिप, डेटिंग और महिलाओं से जुड़े सवालों के जवाब में जो कुछ कहा उससे देश में उनके खिलाफ जबरदस्त गुस्सा फैल गया।

पंड्या ने बताया था कि उनके परिवार वालों की सोच काफी खुली हुई है और जब उन्होंने पहली बार लड़की के साथ शारीरीक संबंध बनाए तो घर आकर कहा, आज करके आया है। पंड्या ने अपने पुराने समय को याद करते हुए यह भी बताया कि वह अपने माता-पिता को पार्टी में लेकर गए जहां हार्दिक ने बेटे से पूछा कि किस महिला को देख रहा है? उन्होंने एक के बाद एक सभी महिलाओं की तरफ उंगली दिखाकर बताया कि मैं सभी को देख रहा हूं। पंड्या की इस महिला विरोधी मानसिकता को लेकर सोशल मीडिया पर वे निशाने पर आ गए। उनके इस रवैये को बेहद शर्मनाक बताया गया।

पंड्या की टिप्पणी को महिला विरोधी और सेक्सिस्ट करार दिया गया। हर तरफ से भारी आलोचना के कारण क्रिकेट बोर्ड ने कारण बताओ नोटिस जारी किया। प्रशासकों की समिति के प्रमुख विनोद राय ने भारतीय खिलाड़ी हार्दिक पंड्या और लोकेश राहुल पर टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ के दौरान महिलाओं पर अश्लील टिप्पणी के लिए दो वनडे मैचों के बैन की सिफारिश की थी।

उधर, हार्दिक पंड्या पर विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि  ‘भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा होने और जिम्मेदार क्रिकेटर होने के नाते हम उनके बयान और विचारों से सहमत नहीं हैं। वह उनके (पंड्या और राहुल) निजी विचार हैं।’ कोहली ने आगे कहा कि टीम इंडिया के नजरिए से देखें तो ड्रेसिंग रूम में हमारे व्यवहार में कोई बदलाव नहीं आएगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here