मुसलिम बाहुल्य मेवात इलाके में आतंकी हाफिज़ सइद बनवा रहा था मस्जिद

0
68
Mosque-in-Palwal

जांच एजेंसी एनआईए ने छापामार मस्जिद के सारे दस्तावेज और मिलने वाले दान आदि से संबंधित कागजात, डायरी अपने कब्जे में लिए 

Mosque-in-Palwal

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली/पलवल। हरियाणा के मुसलिम बाहुल्य मेवात का इलाका आतंकियों, बदमाशों, हत्यारों सहति गौकशी के लिए भी सुरक्षित पनाहगार के रूप में सामने आता रहता है। अभी कुछ दिनों पहले ही यहां कई रोहिंग्या परिवारों को बसाने और उनके समर्थन में आंदोलन खड़ा किया गया था। अब इस मुसलिम बाहुल्य इलाके में भारत का दुश्मन नंबर वन और दुनिया का सबसे बड़ा आतंकी पाकिस्तानी हाफिज सइद की घुसपैठ से देश की सुरक्षा एजेंसियों हतप्रभ हैं। यहां बन रही एक मस्जिद को हाफिज सइद पैसा दे रहा था। इस मस्जिद का नक्शा भी हाफिज सइद के लोगों ने दुबई से बनाकर भेजा था। राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी एनआईए ने इस मामले में तीन इमामों को गिरफ्तार किया है।

 यह भी पढ़ें-    गुरुग्राम के विवादित मस्जिद व मदरसे को ‘लश्कर’ का फंडिंग!

पलवल जिले के उत्तावर गांव में एक बड़ी मस्जिद बनाई जा रही है जिसका नाम खुलाफा-ए-रशीदीन रखा गया है। इस मस्जिद को दिल्ली में रह रहा इमाम मोहम्मद सलमान बनवा रहा था। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की जांच में खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान में हाफिज सईद का आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा इस मस्जिद को बनाने के लिए दुबई से पैसा भेज रहा था। हवाला के जरिए करीब 80 लाख रुपए दुबई से भेजा गया, जो मोहम्मद सलमान को मिला। इसके अलावा भी सलमान को हवाला से कई बार हाफिज सइद ने पैसा भेजा है, जिसे सलमान ने अपनी बेटी की शादी में खर्च किया।

जांच एजेंसी मस्जिद के सारे दस्तावेजों और मिलने वाले दान आदि से संबंधित दस्तावेज अपने कब्जे में ले लिए हैं।

 

एनआईए एक अधिकारी के मुताबिक सलमान जब दुबई में था तो वो लश्कर के संपर्क में आया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here