‘द्रोहियों’ की मजलिस में ‘खौफ’, …पर निशाना चूक गया!

0
60
umar-khalid-freedom-without-fear

जेएनयू में ‘भारत तेरे टूकड़े होंगे’ का मास्टर माइंड खालिद बाल-बाल बच गया  

umar-khalid-freedom-without-fear

रिपोर्ट- अमन कुमार।

नई दिल्ली। राजधानी के कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में नक्सलियों, वामपंथियों, देशद्रोहियों और हिन्दू विरोधियों की जमात सज-धज ‘खौफ’ फैलाने पहुंचे थे। जेएनयू का देशद्रोही जो एक आतंकी को फांसी दिए जाने पर मातम मना रहा था, भारत तेरे टूकड़े होंगे का  नारा लगाने का मास्टरमाइंड, कॉन्‍स्‍टीट्यूशन क्‍लब पहुंचकर ‘खौफ से आजादी’ नामक एक कार्यक्रम में मोदी सरकार और हिन्दुओं पर वार करने पहुंचा था। बताया जाता है कि तभी एक शख्स ने उस ‘देशद्रोही’ को ‘आजाद’ कर देने के लिए हमला किया, जिसमें वह बाल-बाल बच गया। हालांकि, दबी जुबान कहा जा रहा है कि सबकुछ फिक्स था ताकि विरोध की तेज हवा बनाई जा सके। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

दरअसल, मोदी सरकार के विरोधी वामपंथी, नक्सली और कांग्रेस के चट्टे-बट्टे कुछ मीडिया गिरोह भी पहुंचे हुए थे, जो अबतक कांग्रेसी राज में जमकर माल उड़ाते रहे हैं। ‘ख़ौफ से आज़ादी’ नाम के इस कार्यक्रम में प्रशांत भूषण, मोदी सरकार के विरोध में लॉन्च की गई कांग्रेसी-वामपंथी मीडिया ‘द वायर’ का तथाकथित पत्रकार अरफा खानुम शेरवानी, दिल्ली विवि का वामपंथी प्रोफेसर अपूर्वानंद,

कार्यक्रम के इन्वीटेशन के मुताबिक, सोमवार 2.30 बजे कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में ‘ख़ौफ से आज़ादी’ कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसमें प्रशांत भूषण (सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील), मनोज झा (राजद, सांसद), वामपंथी प्रोफेसर अपूर्वानंद, अली अनवर (पूर्व सांसद), फातिमा नफीस (नज़ीब अहमद की मां), राधिका वेमुला (रोहित वेमुला की मां), फातिमा (जुनैद की मां), फातिमा (अलीमूद्दीन की पत्नी), समयदीन (हापुड़ लिंचिग मामले का पीड़ित), यशपाल सक्सेना (अंकित सक्सेना के पिता) और डॉक्टर कफील ख़ान (बीआरडीएम गोरखपुर के सस्पेंडेड डॉक्टर) को बुलाया गया था।

जैसा कि इन सबके नाम से पता चल जाता है कि ये सब किस उदेश्य  को लेकर और किसके विरोध एकत्रित हुए थे। यह मोदी के खिलाफ जहर उगलने वालों की पूरा ज़मात है।  इससे पहले से देश में असहिष्णुता की राग अलाप रहे थे और अब ‘हेट इनीसिएटीव’ का जाल फैलाकर देश में खौफ पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं ताकि आमचुनाव में मोदी के खिलाफ हवा बना सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here