GURUGRAM : आरईसी फाउंडेशन ने प्रवासी श्रमिक परिवारों में राशन का वितरण किया 

0
328

आरईसी फाउंडेशन सीएसआर के तहत एआईसीएपीडी के साथ मिलकर कोरोना संकटकाल में श्रमिकों को मदद को आगे आई। विल्डिंग निर्माण में लगे 60 से अधिक दैनिक श्रमिक परिवारों को खाद्य पदार्थ उपलब्ध कराए।  

इनोवेशन मोबाइल स्कूल के हेड संदीप राजपूत बोले, कोविड-19 के कारण लाकडाउन से उत्पन्न समस्या से राहत के लिए यहां पढ़ने वाले प्रवासी श्रमिक परिवारों के बच्चों और परिवार के सभी सदस्यों को मदद की बड़ी जरूरत 

हमारे सहयोगी वेवन्यूज़ गुरुग्राम गज़ट के लिए/ रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो/ गुरुग्राम।

आरईसी लिमिटेड द्वारा सीएसआर कार्यक्रम के लिए नामित आरईसी फाउण्डेशन ने शहर में प्रवासी श्रमिक परिवारों को कोरोना महाविपदा के दौरान गुरूग्राम के विभिन्न झुग्गी-बस्तियों में चल रहे शिक्षा केन्द्रों ‘इनोवेशन मोबाइल स्कूल‘ के बच्चों के परिजनों को आटा, चावल, नमक, मसाला, तेल आदि जरूरी खाद्य सामग्री के साथ ही कुछ दवाइयां, साबुन, सैनेटाइजेशन सामग्री आदि दी गई। इन माइग्रेंट श्रमिक परिवारों आज मदद की सबसे अधिक दरकार है क्योंकि इनकी बस्तियां शहर से बाहर सड़क के किनारे है और लॉकडाउन के चलते आसपास कुछ मिलना संभव नहीं है।

आईसी फाउंडेशन ने भोंडसी में गुरुग्राम-सोहना रोड स्थित इनोवेशन मोबाइल स्कूल सेंटर के नजदीक रह रहे 60 प्रवासी दैनिक श्रमिक परिवारों को राशन सामग्री मुहैया करवाई। ये सभी श्रमिक राजस्थान के रहने वाले हैं जो वर्षों से यहां परिवार सहित रहकर विल्डिंग निर्माण कार्य करते हैं। इन दिहाड़ी मजदूरों को लॉकडाउन जैसे विकट हालात में खाद्य सामग्री की सख्त जरूरत है ताकि वे इसके अभााव में पलायन न कर सकें।

इस श्रमिक परिवारों में से एक जगदीश जो करीब 20 साल पहले राजस्थान से गुरुग्राम आए थे। आज वे राजस्औथान से ही आए अन्य 60 परिवारों के साथ भोंडसी में सोहना रोड पर झुग्गियों में पत्नी व चार बच्चों के साथ रहते हैं। 22 मार्च को लाकडाउन की घोषणा के चार दिन बाद राशन खत्म हो गया। उनके सामने विकट परेशानी थी। वे भी अन्य श्रमिकों की तरह लॉकडाउन में ही गांव जाने की तैयारी शुरू कर दी। इसी दौरान एआईसीएपीडी की टीम मौके पर पहुंची और आरईसी की मदद से सभी को 15 दिनों के लिए राशन दिया गया।

एआईसीएपीडी एवं इनोवेशन मोबाइल स्कूल के संस्थापक सदीप राजपूत ने बताया कि कोविड-19 वायरस के चलते  लाकडाउन के बाद प्रवासी मजदूरों एवं उनके बच्चों के सामने खाने-पीने की चीजों से लेकर समस्या से निपटने के लिए एक टीम का गठन किया है जो रोजाना सभी शिक्षा केन्द्रों में बच्चों को जागरूक करने से लेकर राशन सामग्री का वितरण कर रहे है।

उल्लेखनीय है कि भोंडसी सोहना रोड के अलावा डीएलएफ फेज 2, सुखराली एन्क्लेव, सेक्टर 15 पटेलनगर, फरूखनगर रोड सहित सात कांस्ट्रशन साइट्स के पास उनकी संस्था आरईसी फाउण्डेशन के सीएसआर कार्यक्रम के तहत स्कूल आपके द्वार प्रोग्राम के तहत श्रमिक परिवारों के बच्चों को शिक्षा मुहैया कराती है ताकि ये बच्चे भी समाज की मुख्यधारा से जुड़ सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here