Breaking : आदिल चौधरी की धमकी बीच ढाई सौ जाट नेताओं से मिलेंगे अमित शाह!

0
232
अमित शाह
उप्र के कैराना में डोर-टू-डोर कैंपेन करते अमित शाह।

करीब ढाई सौ जाट नेताओं से बुधवार को नई दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह मिलेंगे। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान से पहले बीजेपी की बड़ी राजनीति

डॉ. मनोज कुमार तिवारी/ रिपोर्ट4इंडिया।

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश विधानसबा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग से पहले पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुछ वायरल वीडियो ने चुनावी माहौल को गरम कर दिया है। मुजफ्फरनगर में मुसलिम नेता आदिल चौधरी के बयानों के बीच सूचना है कि दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह जाट नेताओं से मिलेंगे। माना जा रहा है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बड़े 250 जाट नेता अमित शाह से मिलेंगे। जिस तरीक से जयंत चौधरी और अखिलेश यादव की गठबंधन में जाट बाहुल्य उत्तर प्रदेश में मुसलिम उम्मीदवारों को उतारा गया है, उसे लेकर जाटलैंड की राजनीति गरमा गई है।

मुजफ्फरनगर के दंगे को अबतक नहीं भूल पाई जाट समुदाय ने खुलकर गठबंधन के खिलाफ अपना व्यक्तव्य सोशल मीडिया पर दे रहे हैं। इससे हताश मुसलिम नेता गठबंधन के पक्ष में जाटों के वोट नहीं करने पर भूस भर देने की धमकी देने लगे हैं।

बदलती हुई राजनीतिक तस्वीर के मद्देनज़र अमित शाह के साथ इतनी बड़ी संख्या में जाट नेताओं की बैठक यह बताने के लिए काफी है कि यह सामान्य चुनाव नहीं है। करो व मरो वाली स्थिति सामने है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जाट समुदाय अपने अस्तित्व के लिए बीजेपी की ओर ही देख रहा है। जिस प्रकार से आदिल शाह ने जाट समुदाय को धमकी दी है वह काफी चर्चा में है।