बिहार में ‘दाल गलते’ न देख उपेंद्र कुशवाहा ने दिया इस्तीफा

0
25
upendra-kushwaha

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी प्रमुख और केंद्र में मंत्री उपेद्र कुशवाहा के साथ सीटों क तालमेल नहीं हो सकी। पिछले कुछ माह से वे महागठबंधन में अपनी भविष्य की राजनीति तलाश रहे थे। बिहार में सीएम नीतीश कुमार के साथ भी था 36 का संबंध।     

upendra-kushwaha

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।

नई दिल्ली/पटना। आखिरकार 2014 में बिहार में भाजपा के साथ आए राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी प्रमुख व केंद्रीय मंत्री उपेद्र कुशवाहा ने आखिरकार सोमवार को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। उपेंद्र कुशवाहा बिहार में टिकट बंटवारे को लेकर नाराज चल रहे थे। वे चाहते थे कि 2019 के लोकसभा चुनाव में बिहार में उन्हें चार सीट मिले। बीजेपी-जदयू उन्हें किसी भी स्थिति में दो सीट से ज्यादा देने को तैयार नहीं थी। वैसे भी, उपेद्र कुशवाहा पिछले कई माह से बिहार में महागठबंधन के नेताओं के संपर्क में थे।

उपेंद्र कुशवाहा ने अपना इस्तीफा प्रधानमंत्री को भेजा है। पहले से ही ऐसी संभावना थी कि उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन में शामिल हो सकते हैं। इस्तीफा के दौरान उपेंद्र कुशवाहा ने केंद्र पर बिहार को नजरंदाज करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, केद्र ने बिहार में किए कोई भी वादा नहीं निभाया।

उधर, तीन बड़े राज्यों में एक्जिट पोल में बीजेपी की खराब स्थिति को देखकर भी कुशवाहा को लगा कि बीजेपी का साथ छोड़ने का यह अच्छा मौका है। दूसरी तरफ, महागठबंधन में भी लगातार कहा जा रहा था कि यदि कुशवाहा गठबंधन में शामिल होना चाहते हैं तो वे अब विलंब न करें। ऐसी स्थिति में उपेंद्र कुशवाहा ने केंद्रीय सरकार से बाहर होना ज्यादा बेहतर समझा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here