देश का पहला भगोड़ा आर्थिक अपराधी बना विजय माल्या

0
56
vijay-malya

बैंकों के नौ हजार करोड़ रुपए लेकर ब्रिटेन भागे विजय माल्या के खिलाफ धन शोधन निरोधक अधिनियम  के तहत पहली कार्रवाई। पूरी संपत्ति होगी जब्त।

vijay-malya

रिपोर्ट4इंडिया ब्यूरो।  

नई दिल्ली। भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्या को वित्तीय अपराधी घोषित कर दिया गया। धन शोधन निरोधक अधिनियम (पीएमएलए) के तहत स्थापित स्पेशल कोर्ट ने शनिवार को यह फैसला सुनाया। साथ ही, विजय माल्या के सभी संपत्ति को भी जब्त कर लिया जाएगा।

भगोड़ा आर्थिक अपराधी अधिनियम (एफईओए) के तहत विजय माल्या का नाम देश के पहले भगोड़े आर्थिक अपराधी के रूप में दर्ज हो गया। इस कानून में जांच एजेंसियों को एफईओए के तहत दर्ज अपराधी की सारी संपत्तियां जब्त करने का अधिकार है। इस आदेश के बाद कर्नाटक, इंग्लैंड सहित अन्य जगहों की विजय माल्या से जुड़ी संपत्तियां ईडी कुर्क कर सकता है।

ईडी के वकील और वरिष्ठ अधिवक्ता हितेन वेनगांवकर ने बताया कि एफईओए नया कानून काफी सख्त है। इस कानून के दायरे में जांच एजेंसियां विजय माल्या की सभी प्रॉपर्टी जब्त कर सकती हैं। ये प्रॉपर्टी चाहे अपराध क्षेत्र के अंदर हों या बाहर, उससे फर्क नहीं पड़ता। आर्थिक भगोड़ा घोषित होने पर माल्या को ब्रिटेन से प्रत्यर्पित करने में भी मदद मिलेगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here