INDIA-CHINA : सैन्य गतिरोध को दूर करने को 13वें दौर की बातचीत

0
548

“विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दुशांबे, ताजिकिस्तान में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के मौके पर चीनी समकक्ष वांग यी से मुलाकात की और दोनों नेताओं ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ सीमा तनाव और विघटन पर चर्चा की थी।”

Manoj Kumar Tiwary/ Report4india/ New Delhi.

पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत और चीन के बीच चल रहे सैन्य गतिरोध को दूर करने के लिए कोर कमांडर स्तर की बातचीत का 13वां दौर आज रविवार को सुबह साढ़े 10 बजे चीनी के मोल्डो में शुरू हुआ।

विदेश मंत्रालय ने बृहस्तपिवार को कहा था, उम्मीद है चीन द्विपक्षीय समझौतों और प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन करते हुए पूर्वी लद्दाख में LAC के साथ शेष मुद्दे के जल्द समाधान की दिशा में काम करेगा।

इससे पहले, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दुशांबे, ताजिकिस्तान में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के मौके पर चीनी समकक्ष वांग यी से मुलाकात की और दोनों नेताओं ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ सीमा तनाव और विघटन पर चर्चा की।

गौरतलब है कि एक साल से अधिक समय से लद्दाख क्षेत्र में चीनी सैनिकों के उत्तेजनापूर्ण व्यवहार और आक्रामकता का भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है। गलवान में चीनी सैनिकों ने धोखे से भारतीय सैनिकों पर हमला किया था, जवाब में भारतीय सैनिकों ने जिस पराक्रम का जवाब दिया, उसे वर्षों चीनी याद रखेंगे। चीन की इस धोखेबाजी से  से भारत मां के 20 लाल शहीद हो गये थे।