संयुक्त राष्ट्र जैसा वैश्विक मंच पर भारत ‘स्थायी हैसियत’ का हकदार

0
468

संयुक्त राष्ट्र में पीएम मोदी ने एकबार फिर भारत की ताकत और सामर्थ्य को सामने रखा और कहा कि दुनिया भारत के बिना उस रूप में नहीं होगी जैसा कि होनी चाहिए। भारत विश्व मंच पर स्थायी हैसियत का हकदार। 

भारत को ‘मजबूती’ नहीं मिली तो संयुक्त राष्ट्र स्वयं अप्रसांगिक हो जाएगा

report4india/ New Delhi.

संयुक्त राष्ट्र संघ में प्रदानमंत्री मोदी ने एकबार फिर दुनिया के सामने भारत की हैसियत, उसकी ताकत, सामर्थ्य और संस्कृति को रखा और कहा कि भारत को शक्ति दिये बिना संयुक्त राष्ट्र संघ जैसा वैश्विक मंच समय के साथ स्वयं शक्तहीन हो जाएगा। उन्होंने महानीतिज्ञ चाणक्य की पक्ति का उदाहरण देते हुए कहा कि जो लोग या व्यवस्था समय के साथ अपने को अनुशासित नहीं करता या अपने को नहीं ढालता वे लोग या व्यवस्था को समय स्वयं ही ताकतहीन कर देता है।

इसे भी पढ़ें- PM MODI LIVE IN UNO : संयुक्त राष्ट्र में पीएम मोदी का संबोधन- Live

प्रधानमंत्री ने साफ किया कि संयुक्त राष्ट्र को 140 करोड़ लोगों की आवाज को पहचानने की जरूरत है। हमारी भागीदारी ही दुनिया को शांति व सह-अस्तित्व की राह पर ले जाएगा। हम अद्भुत संस्कृति और साहचर्य में जीने वाले लोग है।दुनिया की मौजूदा समस्याओं का सही मायने में हल भारत के पास है। हम लोकतंत्र की जननी है, हमारे यहां लोकतंत्र ने जन्म लिया और लोकतंत्र ही सभी समस्याओं का हल है।