अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट फैसले पर पुनर्विचार याचिका दायर करेगा AIMPLB

0
1028
लखनऊ में मुसलिम पर्सनल लॉ बोर्ड की प्रेस कांफ्रेंस।

मुसलमानों के लिए अलग देश का विभाजन करने वाले तत्व फिर सक्रिय हुए। अयोध्या राम मंदिर केस को लटकाने, भटकाने का प्रयास कर रहा मुसलिम पर्सनल लॉ बोर्ड

Report4India Bureau/ Lucknow.

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड (AIMPLB) ने अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर करने का निर्कणय लिया है। उत्तर प्रदेश की राजधानी में एआईएमपीएलबी की बैठक में कई विरोधाभासी खबरें सामने आई। सबसे पहले बैठक के समय पर बैठक का स्थान बदल दिया गया। इसके अलावा बोर्ड ने कहा कि मस्जिद के बदले दूसरी जगह पर दी जाने वाली 5 एकड़ जमीन भी मंजूर नहीं है। उन्हें वही जमीन चाहिए जहां पर बाबरी मस्जिद बनी थी।

बैठक से पहले कई तरह की विरोधाभासी खबरें सामने आई जिसमें पहले से बैठक स्थान नदवा इस्लामिक सेंटर को बदलकर एक शिक्षण संस्थान मुमताज पीजी कॉलेज में की गई। बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोर्ड के एक सदस्य कासिम रसूल इलियास ने कहा कि फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर की जाएगी। उन्होंने कहा, मस्जिद की जमीन के बदले में मुसलमान कोई दूसरी जमीन स्वीकार नहीं कर सकते हैं और न्यायहित में मुसलमानों को बाबरी मस्जिद की जमीन दी जाए।

कासिम रसूल इलियास ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कुल 10 बिंदुओं पर फैसले को लेकर सवाल उठाए और कहा फैसले में कई खामियां हैं इसलिए इस पर पुनर्विचार याचिका जरूरी है। बताया गया कि बैठक में बोर्ड के 30 से अधिक सदस्य शामिल थे।